भारत बंद: मध्यप्रदेश की कुछ महत्वपूर्ण घटनाएं | MP NEWS

Advertisement

भारत बंद: मध्यप्रदेश की कुछ महत्वपूर्ण घटनाएं | MP NEWS


शहडोल: गांधी चौक में धरने में बैठे लोगों पर लाठीचार्ज के बाद उग्र हुआ आंदोलन। रैली निकालकर कलेक्ट्रेट पहुंचे लोग। एसपी को हटाने और लाठी चार्ज में लोगों के घायल होने पर FIR की कर रहे मांग। 
विदिशा: प्रशासन की पूरी तैयारी के बाद भी भीड़ बेकाबू,विधायक के घर का किया घेराव,10 हजार सपाक्स कार्यकर्ता नीमताल चौराहे पर धरने पर बैठे,शहर भर में निकाली रैली।
भिण्ड: पुलिस के बज्र वाहन पर पथराव, पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा, मेला रोड की घटना।

अशोकनगर: चंदेरी, मुंगावली, ईसागढ़, शाढ़ौरा, नईसराय,बहादुरपुर में प्रतिष्ठान बंद, शाढ़ौरा में लोगों ने बीना-कोटा रेलवे ट्रैक किया जाम, ट्रेनों को गुना और अशोकनगर स्टेशन पर ही रोक कर रखा,बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स भेजा गया।
उज्जैन: बंद का व्यापक असर, नागदा में लोगों ने अर्धनग्न होकर किया प्रदर्शन, महिदपुर में लोगों ने सांसद का पुतला फूंका।
टीकमगढ़: बाजार बंद के दौरान टीकमगढ़ में हंगामा, बीच बाजार में सैकड़ों युवा बाजार बंद कराने निकले, प्रदर्शनकारियों ने कलेक्टर के वाहन को रोका, प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी के लिए कलेक्टर ने दिए आदेश। 
भोपाल: एक देश एक कानून की मांग को लेकर भोपाल के न्यू मार्केट पर युवा व्यापारी संघ के लोगों ने प्रदर्शन किया। 

क्या है मामला
सुप्रीम कोर्ट ने एससी/एसटी एक्ट में एफआईआर दर्ज होते ही गिरफ्तारी की शर्त हटा दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने व्यवस्था दी थी कि मामला दर्ज होने के बाद पहले जांच की जाए और फिर गिरफ्तारी। पीएम नरेंद्र मोदी सरकार सुप्रीम कोर्ट के आदेश को निष्प्रभावी करने के लिए अध्यादेश ले आई और वो फटाफट संसद में पारित भी हो गया। अब जनता भड़क गई है। लोगों का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में ही चुनौती दी जानी चाहिए थी। अध्यादेश क्यों लाए।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com