Loading...

99% लोगों को नहीं पता लहसुन खाने का सही तरीका | AYURVEDA TIPS

आयुर्वेद में कई बार बताया गया है कि लहसुन हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना फायदेमंद है। शरीर में अगर ये चला जाए, तो किस अमृत से कम नहीं है। ह्दय रोग में ये रामबाण का काम करता है। लोग आमतौर पर इसे छीलकर खा लेते हैं, लेकिन लहसुन खाने का ये तरीका आपके लिए कभी फायदेमंद नहीं हो सकता। आज भी 99 फीसदी लोग लहसुन खाने का सही तरीका नहीं जानते। तो आइए हम आपको बताते हैं कि किसी भी रोग में लहसुन किस तरह खाएं, कि आपके शरीर को फायदा पहुंचे।

सबसे पहले लहसुन को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। उसे अच्छी तरह से पीस कर कम से कम दस मिनट तक ऐसे ही पड़ा रहने दें। ध्यान रखें कि इसे तुरंत इस्तेमाल नहीं करना है। अगर ऐसा किया तो इसमें मौजूद एलिन नाम का कैमिकल एलिसिन में बदल जाता है, जो उल्टा असर करने लगता है। 10 मिनट बाद आप कटे हुए या पिसे हुए लहसुन को पकाकर या इसका रस निकालकर खा सकते हैं। बता दें कि कच्चा लहसुन खाने से आपको जलन हो सकती है। इसलिए इसे कच्चा न खाकर पकाकर खाएं।

कितना करें प्रयोग-
अगर आप किसी बीमारी से जुड़ी पहले से कोई दवा खा रहे हैं, तो सीमित मात्रा में इसका प्रयोग करें। अगर कोई दवा नहीं ले रहे हैं तो हर रोज 5 से 10 ग्राम तक इसे खा सकते हैं। बता दें कि लहसुन की एक कली में 4 से 5 ग्राम वजन होता है।

लहसुन का उपयोग करने से पहले ध्यान रखें-
- अगर आप खून को पतला करने वाली कोई दवा पहले से ले रहे हैं तो इसे लेने से पहले आप डॉक्टर से जरूर कंफर्म कर लें, क्योंकि इन दवाओं को लहसुन के साथ लेने से ब्लीडिंग डिसऑर्डर का खतरा बढ़ जाता है।
- लहसुन बीपी को कम करने वाली और कॉलेस्ट्रोल को कम करने वाली दवाओं के इफैक्ट को बढ़ा देता है। यदि आप लहसुन का उपयोग कर रहे हैं, तो डॉक्टर से इन दवाओं के डोस को एडजस्ट करा लें।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com