Loading...

अर्थी ले के गए थे तब सब सामान्य था, दाग लगाकर लौटे तो बाढ़ आ गई, 70 फंसे | SATNA MP NEWS

सतना। प्रदेश में पिछले दो दिनों से हो रही बारिश ने लोगों को सांसत में डाल रखा है। ऐसे में सतना के मैहर में अंतिम संस्कार में शामिल होने गए 70 लोग उफनाते नाले के पानी के तेज बहाव में फंस गए। सभी लोग पानी कम होने का इंतजार करते रहे मगर पानी था कि कम होने का नाम ही नहीं ले रहा था. करीब 6 घंटा टीले में बैठे रहने के बाद प्रशासन और मैहर सीमेंट के वर्करों की मदद से उन्हें रेस्क्यू किया और सभी 70 लोग सुरक्षित निकाल लिए गए।

जानकारी के मुताबिक, मैहर सीमेंट में कार्यरत सुभाष राय का बीमारी के चलते देहांत हो गया। जिसके बाद फैक्ट्री में कार्यरत भारतीय मजदूर संघ के करीब 70 वर्कर दोपहर साढ़े 3 बजे के लगभग दो किलोमीटर दूर बाजी नाला के उस पार उनके अंतिम संस्कार के लिए एकत्रित हुए। वर्करों ने जिस वक्त नाला पार किया उस समय नाले में पानी कम था मगर थोड़ी देर में नाला में पानी बेहिसाब आ गया, जिसके बाद सभी 70 वर्कर नजदीक बने टीले के ऊपर चढ़ गए और पानी कम होने का इंतजार करने लगे।

वर्कर्स ने भारतीय मजदूर संघ के विभाग प्रमुख राजपाल शर्मा को मोबाइल पर अपने बाढ़ के बीच फंसे होने की जानकारी दी। शर्मा ने कलेक्टर मुकेश शुक्ला को इस बात की जानकारी दी और सभी कर्मचारियों का रेस्क्यू करने की गुहार लगाई। कलेक्टर ने मदद का पूरा भरोसा दिया। उन्होंने इस संबंध में ए अग्रवाल को रेस्क्यू करने के निर्देश दिए। इधर, फैक्ट्री प्रबंधन ने भी पुलिस को सूचना दे दी, जिसके बाद करीब साढ़े 4 घंटे की मशक्कत के बाद रात साढ़े 9 बजे सभी 70 लोगों को उफनाते नाले से बाहर निकाल लिया गया।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com