कश्मीर में ईद: भाजपा नेता और जवान की हत्या, आतंकी झंडे लहराए | NATIONAL NEWS

22 August 2018

नई दिल्ली। त्यौहारों के मौके पर जम्मू-कश्मीर में अमन हुआ करता था परंतु अब उपद्रव होने लगा है। ईद की सुबह से पहले एक भाजपा नेता की हत्या कर दी गई। ईद के दिन भारतीय सेना के एक जवान की हत्या कर दी गई। प्रदर्शनकारियों ने पाकिस्तान के झंडे तो लहराए ही, साथ ही प्रतिबंधित आतंकवादी संगठनों के झंडे भी लहराए। साथ ही पत्थरबाजी की गई। 

जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों ने एक पुलिसकर्मी की गोलीमार कर हत्या कर दी। कुलगाम के जाजरीपोरा के ईदगाह के बाहर तैनात पुलिसकर्मी को आतंकवादियों ने गोली मार दी। पुलिस कर्मी की मौके पर ही मौत हो गई। बताया जा रहा है कि जिस पुलिस कर्मी की आतंकियों ने हत्या की वह एसपीओ थे और वह आतंकवादियों से मुकाबले के लिए पुलिस द्वारा चलाए जा रहे अभियान में भी शामिल थे। पुलिस ने बताया कि गोली लगने के बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

पुलिस पर पत्थर बरसाए, आतंकी झंडे लहराए

दूसरी तरफ, बकरीद के मौके पर  जम्मू-कश्मीर में जगह-जगह झड़प की भी खबर है। श्रीनगर में सुरक्षाकर्मियों और प्रदर्शनकारियों की झड़प हुई है। बताया जा रहा है कि श्रीनगर में प्रदर्शनकारियों ने पाकिस्तान और आतंकवादी संगठन आईएसआईएस के झंडे भी लहराए। आपको बता दें कि पिछले दिनों ही आतंकियों ने दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में घर छुट्टी बिताने आए एक पुलिसकर्मी को अगवा कर लिया था और बाद में उसकी हत्या कर दी थी। अनंतनाग में पत्थरबाजों ने पुलिस के वाहन पर पथराव किया। पुलिस स्थिति को नियंत्रित करने का प्रयास कर रही है।

सीआरपीएफ कैंप पर हमला 

खबर आ रही है कि जम्मू-कश्मीर के बिजबेहारा रेलवे स्टेशन पर आतंकियों ने सीआरपीएफ पर हमला किया है। अज्ञात बाइक सवार आतंकवादियों ने बकरीद के मौके पर दहशत फैलाने के इरादे से बीजबेहारा के हसनपोरा में सीआरपीएफ की 30 वीं बटालियन की जी कंपनी के मुख्य द्वार पर ताबड़तोड़ फायरिंग की। गेट पर मौजूद गार्ड ने जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग की, जिसके बाद आतंकी वहां से फरार हो गए। इसमें किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। 

शोपियां में पूर्व सैनिक अगवा 
शोपियां जिले में एक पूर्व सैनिक को अगवा किए जाने की भी खबर है। अगवा सैनिक की पहचान शकूर अहमद पररे के रूप में हुई है। जानकारी के मुताबिक, वह कुंडलान गांव में अपनी मोबाइल दुकान में थे जब कुछ युवा पुरुष एक कार में आए और उन्हें साथ ले गए। परिवार ने अपहरण के बारे में पुलिस को सूचना दी है। सुरक्षाबलों ने सर्च अभियान जारी कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। 

पररे एक एसपीओ थे जो एसडीपीओ बिजबेहारा से जुड़े थे, और 17 जनवरी, 2016 को चार सरकारी हथियारों के साथ भाग गए थे। बाद में पुलिस ने बताया था कि उन्होंने हथियारों को वापस कर दिया है। पुलिस ने धारा 409 (एक सरकारी कर्मचारी द्वारा ट्रस्ट का आपराधिक उल्लंघन) और आरपीसी के 380 (आवासीय घर में चोरी) और शस्त्र अधिनियम की धारा 7/25 के तहत मामला दर्ज किया था। बाद में उसे गिरफ्तार कर लिया गया था और लगभग आधे साल तक जेल भेजा दिया गया था। इससे पहले, वह एक डीएसपी की सुरक्षा व्यवस्था में शामिल रहा था, जो एक आतंकवादी हमले से बच गया था।

भाजपा कार्यकर्ता की हत्या
वहीं जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने मंगलवार रात करीब 2.30 बजे भाजपा कार्यकर्ता की हत्या कर दी। मृतक की पहचान शबीर अहमद भट्ट के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि भट्ट भाजपा से जुड़ा था। भट्ट की हत्या आतंकवादियों ने उनके पुलवामा स्थित घर में घुसकर की। हमले के बाद आतंकी फरार हो गया। सूचना पाकर पहुंची जम्मू-कश्मीर पुलिस और सेना ने शव को अपने कब्जे में ले लिया।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week