MP का Shala Darpan (SSA-MP) APP यहां से DOWNLOAD करें | Google Play Store link

24 August 2018

राज्य शिक्षा केंद्र ने प्राइमरी और मिडिल स्कूल की मॉनीटरिंग के लिए शाला दर्पण एप तैयार किया है। इस एप के माध्यम से स्कूलों की निगरानी की जाएगी। इससे स्कूलों में शिक्षकों व संस्था प्रधानों की मनमानी पर अंकुश लगने के साथ ही शिक्षा की गुणवत्ता के स्तर में भी सुधार होगा। राज्य शिक्षा केंद्र ने सभी प्राइमरी एवं मिडिल स्कूल की मॉनीटरिंग के लिए शाला दर्पण एजुकेशन पोर्टल तैयार किया था। इसका अब मोबाइल एप भी आ गया है। इस एप पर स्कूल से संबंधित हर जानकारी अपलोड की जाएगी। जिले की सभी प्राइमरी एवं मिडिल स्कूल के शिक्षक एवं प्रधानाध्यापक को स्कूल की समस्त जानकारी इस एप के माध्यम से पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा। शाला दर्पण में जिला, ब्लॉक, डीडीओ सहित स्कूलवार सारा डाटा ऑनलाइन रहेगा। 

अधिकारियों के स्कूल निरीक्षण में शिक्षक कितनी बार अनुपस्थित मिला, यह सारा रिकॉर्ड शाला दर्पण में मिलेगा। एप की सहायता से अन्य विभाग के अधिकारी भी स्कूलों की शिक्षण व्यवस्था पर निगरानी रख सकेंगे। राज्य शिक्षा केंद्र ने शालाओं में निरीक्षणकर्ता अधिकारी की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए जिला परियोजना समन्वयकों को निर्देश जारी किए हैं। 

पोर्टल पर दिखेगी रिपोर्ट 
शाला दर्पण एप पर स्कूलों का निरीक्षण करने वाले अधिकारी रिपोर्ट डालेंगे। इसमें कितने बच्चे स्कूल से अनुपस्थित मिले। शिक्षकों ने बच्चों को क्या और कितना कोर्स पढ़ाया। स्कूल में शिक्षण व्यवस्था की स्थिति क्या है, अफसरों ने उस पर क्या कार्रवाई की। इस प्रकार की सारी जानकारियां शिक्षक के नाम के साथ शिक्षा दर्पण एप पर अपलोड होंगी। 

मॉनीटरिंग होगी सही 
एप के माध्यम से स्कूलों की मॉनीटरिंग होगी। निरीक्षण के दौरान अधिकारी स्कूल से ही वहां की खामियां एप के माध्यम से अपलोड कर सकेंगे। एप पर स्कूल का सारा डाटा उपलब्ध रहेगा। इसे अधिकारी एवं नागरिक भी देख सकते हैं। राज्य शिक्षा केंद्र ने एप पर जानकारी अपलोड करने कौन-सा अधिकारी किस पद पर कब से पदस्थ है, उसकी जानकारी मांगी है। अशोक पराड़कर, डीपीसी, बैतूल 

Shala Darpan app has been designed to incorporate new parameters for school inspections. The revised school inspection format transforms the school inspections into an objective exercise to determine the quality of infrastructure, method of teaching and level of academic achievements in the school.

This system will also facilitate setting up of a rule-based and transparent system for monitoring of schools on key performance indicators. Further, It will also enable proactive determination of scale & type of interventions needed and proactive initiation of necessary remedial action for resolution of issues / shortcomings reported duting the school inspections.
मोबाइल एप DOWNLOAD करने के लिए यहां क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week