यदि राममंदिर कोर्ट से ही बनवाना था तो कारसेवकों को क्यों मरवाया: प्रवीण तोगड़िया | NATIONAL NEWS

09 July 2018

उज्जैन। अगर कोर्ट से ही राम मंदिर का हल निकालना था तो फिर लालकृष्ण आडवाणी को सोमनाथ की जगह सुप्रीम कोर्ट से रथ यात्रा निकालना थी और 1984 से लेकर अब तक राम के नाम पर वोट नहीं मांगने थे, जब कोर्ट से ही राम मंदिर का हल निकलवाना था तो फिर कार सेवा करके लोगों को मरवाया क्यों। यह बात अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने उज्जैन में पत्रकारों से चर्चा में कही। राम मंदिर के मुद्दे पर एक बार फिर तोगड़िया ने भाजपा सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है और कहा कि राम मंदिर का हल कोर्ट से नहीं बल्कि संसद से निकालना चाहिए और अगर अक्टूबर तक कोई निष्कर्ष नहीं निकलता है तो वह लखनऊ से अयोध्या तक कुच करेंगे। 

प्रवीण तोगड़िया सोमवार को उज्जैन आए इस दौरान उन्होंने मंगलनाथ रोड स्थित मौनतीर्थ पर मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि भाजपा ने वादा किया था कि अगर हमारी सरकार बहुमत में आती है तो हम राम मंदिर का निर्माण कराएंगे यह वादा आप ने ना सिर्फ देश की जनता बल्कि भगवान राम से भी किया था , अब जब आप की सरकार पूर्ण बहुमत के साथ देश में साढ़े चार सालों से राज कर रही है तो फिर आप यह वादा क्यों नहीं निभा रहे है

मीडिया से चर्चा करते हुए तोगड़िया ने कहा कि उनके द्वारा हाल ही में अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद का गठन किया गया है जो हिंदुओं के धार्मिक सामाजिक आर्थिक और राजनीतिक अधिकारों के लिए कार्य करेगी | उन्होंने कहा कि उनका संगठन अभी किसी तरह का चुनाव नहीं लड़ेगा लेकिन भविष्य में इसे राजनीतिक पार्टी बनाने की बात से भी इनकार नहीं किया तोगड़िया ने संगठन के माध्यम से कुछ प्रमुख कार्य पर फोकस किया है जिनमें सस्ती और अच्छी शिक्षा, हर युवा को रोजगार, कर्ज मुक्त किसान डेढ़ गुना मुनाफा और मजदूरों की आर्थिक तरक्की मुख्य है। 

प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि मध्य प्रदेश राजस्थान का चुनाव देश के आने वाले राजनीतिक भविष्य का फैसला करेंगे प्रदेश में किसानों की स्थिति अच्छी नहीं है जिसके लिए वह 15 अगस्त से शुरू हो रहे कक्का जी के किसान आंदोलन में भागीदारी करेंगे उन्होंने कहा कि उनका संगठन उस राजनीतिक संगठन के साथ है जो किसानों को कर्ज मुक्त करेगा उन्हें उन की फसल से डेढ़ गुना अधिक मुनाफा देगा और हिंदुओं के हितों की रक्षा करेगा। देश में बढ़ती बलात्कार की घटनाओं को लेकर प्रवीण तोगड़िया ने अपनी नाराजगी जताई और कहा कि यह अक्षम्य अपराध है इस पर अंकुश लगाने में सरकार नाकाम साबित हुई है|
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts