अब वीएल कांताराव के हाथ में चुनाव की लगाम, सलीना सिंह को हटाया | MP NEWS

11 July 2018

भोपाल। भारत के चुनाव आयोग ने मप्र की मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी (सीईओ) सलीना सिंह को हटा दिया है, उनकी जगह 1992 बैच के आईएएस अफसर वीएल कांताराव को नया सीईओ बनाया गया है। बता दें कि वीएल कांताराव अपने निडर और न्यायोचित फैसलों के लिए जाने जाते हैं। श्री कांताराव जब कलेक्टर हुआ करते थे तब उन्होंने सीएम की एक सिफारिश को सरेआम फाड़ दिया था क्योंकि वो राजनीति से प्रेरित थी और नियमानुसार नहीं थी। चुनाव आयोग ने नए सीईओ की पोस्टिंग के लिए राज्य सरकार से पैनल मांगा था। इसी आधार पर मंगलवार को कांताराव के आदेश आयोग ने जारी कर दिए। 

सलीना सिंह का कार्यकाल पूरा, कांताराव अनुभवी
सलीना सिंह को 26 जून 2015 को मप्र का मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी बनाया गया था, उनके बीते 26 जून को तीन साल पूरे हो गए थे। आयोग के स्पष्ट आदेश हैं कि चुनाव ड्यूटी में लगा कोई अफसर 3 साल से ज्यादा समय तक एक पद पर नहीं रहेगा। इसी के चलते सलीना सिंह को हटाया गया। इधर, वीएल कांताराव चुनाव आयोग में बीते विधानसभा चुनाव 2013 में एडिशनल सीईओ रहे हैं। 

वीवीपैट मशीन जांच के दौरान विवाद में आई थीं सलीना सिंह 
सूत्रों का कहना है कि सलीना सिंह को लेकर केंद्र भी खासा नाराज था। इसके पीछे वजह बताई जा रही है कि उनका मुंगावली और कोलारस उप चुनाव के दौरान भाजपा नेताओं से सीधा विवाद हुआ था। इससे पहले अटेर चुनाव के दौरान भी वीवीपैट मशीन की जांच को लेकर सुर्खियां बनीं। जिससे आयोग नाराज हुआ। बताया जा रहा है कि इन स्थितियों के चलते आयोग उन्हें हटाए जाने के बारे में विचार कर रहा था। लिहाजा आयोग ने शनिवार को ही राज्य सरकार से नए सीईओ के लिए पैनल बुलवा लिया। मंगलवार को वीएल कांताराव को सीईओ बनाए जाने के आदेश जारी कर दिए। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week