दिग्विजय सिंह ने शिक्षक कर्मी से की शिवराज सिंह को सबक सिखाने की अपील | MP ELECTION NEWS

31 July 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने पहली बार शिक्षाकर्मी के मुद्दे पर बयान जारी किया है। उन्होंने शिक्षाकर्मियों से अपील की है कि वो शिवराज सिंह को सबक सिखाएं। बता दें कि सीएम शिवराज सिंह ने भिंड में आयोजित पत्रकार वार्ता में कहा था कि 'शिक्षकों की जगह शिक्षाकर्मी भर्ती करके दिग्विजय सिंह ने सबसे बड़ा पाप किया है।' बता दें कि शिक्षाकर्मियों ने दिग्विजय सिंह शासनकाल में कई बार नियमितीकरण के लिए प्रदर्शन किए परंतु उनकी मांग पर ध्यान नहीं दिया गया। उमा भारती ने उन्हे नियमित करने का आश्वासन दिया था और शिवराज सिंह सरकार ने नियमितीकरण की प्रक्रिया पर काम शुरू किया। फिलहाल संविलियन के मुद्दे पर शिक्षाकर्मी से अध्यापक बने सरकारी कर्मचारी शिवराज सिंह का विरोध कर रहे हैं। 

दिग्विजय सिंह ने अपने बयान में लिखा है: बक़ौल शिवराज सिंह चौहान जी मा. मुख्य मंत्री जी। मैंने मप्र के गॉवों के लड़कों लड़कीयों को शिक्षा कर्मी बना कर बड़ा “पाप” किया। सुन रहे हो मेरे द्वारा किये गये “पाप” के शिक्षक कर्मी भाईयों और बहनों? शिवराज को सबक़ सिखाओ। और मुझे भरोसा है आप इस अहंकारी को सबक़ सिखाओगे। 


शिवराज जी, यदि मैने पाप किया है तो आपने कौन सा पुण्य किया
एक अन्य बयान में दिग्विजय सिंह ने सीएम शिवराज सिंह को जवाब दिया है। उन्होंने लिखा है: अगर शिवराज जी मैंने मप्र के गाँवों के शिक्षा कर्मी बना कर पाप किया तो क्या आपने मप्र के बाहर से आयातित युवकों को व्यापम द्वारा पैसा ले कर भर्ती कर पुण्य का काम किया? शर्म करो। आपका अहं और अहंकार आपको ढुबायेगा। 
 मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->