पशु चिकित्सा के लिए टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर

05 July 2018

भोपाल। पशुपालन विभाग द्वारा पशुधन संजीवनी योजना 1962 समस्त विकासखण्डों में प्रारंभ की जा चुकी है। इस योजना के अंतर्गत पशु पालकों को 1962 पर कॉल करने पर उपचार, टीकाकरण, औषधि वितरण, बधियाकरण, शल्यक्रिया इत्यादि सेवायें उपलब्ध होंगी। उप संचालक पशु चिकित्सा द्वारा जिले के पशु पालकों से अनुरोध किया गया है कि टोल फ्री नम्बर 1962 पर कॉल कर पशुपालन विभाग द्वारा दी जाने वाली सेवाओं का लाभ लें। पशुपालकों को 1962 टोल फ्री नम्बर पर कॉल करने पर एक मैसेज के माध्यम से आने वाले पशु चिकित्सक का मोबाईल नम्बर प्राप्त होगा। संबंधित पशु चिकित्सक पशु की बीमारी के आधार पर 5 घण्टे से लेकर 72 घण्टे के अंदर पशु पालक के घर पहुंचकर बीमार पशुओं का इलाज करेंगे। 

योजनाओं का लाभ चाहिए तो प्रोफाइल रजिस्टर्ड करवाएं
अनुसूचित जाति जन जाति वर्ग के सभी व्यक्तियों का प्रोफाइल पंजीयन कराया जाना है, जिससे शासन की योजनाओ का बेहतर लाभ इन वर्गो को प्रदाय किया जा सके। इस संबंध में समस्त कार्यालय प्रमुख, प्राचार्य  विद्यालय एवं महाविद्यालय को निर्देशित किया है कि वे अपने अधीनस्थ समस्त कर्मचारियों का प्रोफाइल पंजीयन अभियान के दौरान कराने हेतु प्रेरित करें। उन्हें यह भी अवगत कराए कि वे स्वयं एवं अपने परिवार तथा निकट संबंधियों का आनलाइन प्रोफाइल पंजीयन शीघ्र कराना सुनिश्चित करे। 

हितग्राही प्रोफाइल पंजीयन में आधार कार्ड, आधार मे नाम, जन्मतिथि, पता अंकित होना चाहिए, इसके अलावा स्वयं का समग्र एवं परिवार आईडी तथा डिजिटली साइन, जाति प्रमाण पत्र होना अनिवार्य रहेगा। प्रोफाइल पंजीयन हेतु यू आर एल पर नवीन पंजीयन का आप्शन चयन करना होगा तत्पश्चात आधार नंबर दर्ज करें इसके प्रमाणीकरण हेतु आवेदक का मोबाइल नंबर जो आधार से लिंक है उस पर ओटीपी आएगा। ओटीपी दर्ज कर आवेदक प्रोफाइल पंजीयन कर सकेगे अथवा लोक सेवा केंद्र प्रभारी एवं एम पी आनलाइन, कियोस्क पर अपना बायोमैट्रिक फिंगर प्रिंट देकर पंजीयन करा सकेगे।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week