BSP: राहुल गांधी की निंदा करने वाले राष्ट्रीय उपाध्यक्ष को पद से हटाया गया | NATIONAL NEWS

17 July 2018

लखनऊ। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के 'विदेशी खून' का मुद्दा छेड़ते हुए उनकी पीएम दावेदारी पर सवाल खड़े करने वाले जय प्रकाश सिंह की अगले ही दिन बीएसपी ने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद से छुट्टी कर दी है। मंगलवार को खुद बीएसपी सुप्रीमो मायावती प्रेस के सामने आईं और सिंह को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व कोऑर्डिनेटर पद से हटाने का ऐलान किया। मायावती ने कहा कि जय प्रकाश सिंह का बयान उनकी व्यक्तिगत सोच है और पार्टी उससे इत्तेफाक नहीं रखती। पार्टी नेताओं को हिदायत देते हुए बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि नेता पार्टीलाइन से इतर कुछ भी न बोलें। 

माया ने तुरंत किया डैमेज कंट्रोल 
करीब 2 महीने पहले ही कर्नाटक में मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में सोनिया गांधी और बीएसपी चीफ मायावती के बीच जबरदस्त केमिस्ट्री देखने को मिली थी। लेकिन बीएसपी के एक बड़े नेता द्वारा राहुल गांधी के विदेशी खून का मुद्दा उठाने से साफ-साफ संदेश जा रहा था कि गैरबीजेपी दलों के संभावित महामोर्चे में पीएम पद की दावेदारी को लेकर जबरदस्त 'मारामारी' है। जय प्रकाश सिंह का बयान ऐसे वक्त में आया था जब बीएसपी और कांग्रेस के बीच मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में विधानसभा चुनावों के लिए गठबंधन को लेकर चर्चा चल रही थी। सिंह के बयान से गठबंधन की कोशिशों को झटका लग सकता था, यही वजह है कि मायावती ने सिंह के खिलाफ तत्काल कार्रवाई कर डैमेज कंट्रोल किया। 

क्या कहा था जय प्रकाश सिंह ने 
हाल ही में बीएसपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाए गए जय प्रकाश सिंह ने लखनऊ में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए वंशवादी राजनीति पर हमला बोला था। सिंह ने जहां राहुल गांधी के 'विदेशी खून' का हवाला देकर उन्हें देश का नेतृत्व करने के लिए नाकाबिल बताया, वहीं यह भी कहा कि अगला नेता पेट से नहीं बल्कि पेटी (बैलट बॉक्स) से आएगा। 

नेता पेट से नहीं पेटी से पैदा होगा
सोमवार को लखनऊ में बीएसपी कार्यकर्ताओं की रैली थी। इसी रैली में जय प्रकाश ने राहुल गांधी पर हमला बोला। उन्होंने कहा, 'पूर्व प्रधानमंत्री रहे अपने पिता राजीव गांधी की तरह उनसे कुछ उम्मीद थी। हालांकि वह अपनी मां सोनिया गांधी के पदचिन्हों पर चले। उनकी मां एक विदेशी हैं और इसलिए राहुल गांधी कभी भी भारतीय राजनीति में सफल नहीं होंगे। उनका विदेशी खून देश का नेतृत्व करने की इजाजत नहीं देता। राजा अब रानी से पैदा नहीं होगा। अगला नेता पेट से नहीं पेटी (बैलट बॉक्स) से पैदा होगा।' 

कांग्रेस से गठबंधन तय नहीं 
इस समय बीएसपी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में अगले साल होने वाले चुनाव के लिए कांग्रेस के साथ गठबंधन की बातचीत कर रही है। वहीं लोकसभा चुनाव में बीएसपी और एसपी का गठबंधन लगभग तय माना जा रहा है। हालांकि अभी तक गठबंधन को लेकर कोई भी आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। पार्टी सूत्रों की मानें तो समाजवादी पार्टी कांग्रेस के साथ यूपी में कोई भी गठबंधन नहीं चाहती है। 

शक्ति मंदिर में नहीं राजनीति में है
जय प्रकाश सिंह ने कहा, 'शक्ति खेती, नौकरी, मंदिर और व्यवसाय में नहीं है। अगर मंदिर में शक्ति होती तो योगी आदित्यनाथ गोरखपुर मंदिर छोड़कर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं बनते। शक्ति सिर्फ एक जगह है, वह है राजनीति।' 

उन्होंने स्वामी चिन्मयानंद, स्वामी अग्निवेश, उमा भारती और साध्वी ऋतम्भरा का भी उदाहरण दिया। उन्होंने कहा कि इन सभी धार्मिक लोगों ने अपना मठ छोड़ दिया। खुद विधायक, सांसद बन गए और आप लोगों को मंदिर की घंटी बजाने में लगा दिया। हम कोई घंटी नहीं बजाएंगे, जब तक वह लोकसभा और विधानसभा चुनाव की घंटी न हो। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts