जब-जब मोदी का ग्राफ गिरता है, वो खुद की हत्या का नाटक शुरू कर देते हैं: हार्दिक पटेल

12 June 2018

रतलाम। किसान क्रांति सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने पीएम नरेंद्र मोदी व सीएम शिवराजसिंह चौहान को किसान विरोधी बताया। उन्होंने कहा देश में जब-जब मोदी की लोकप्रियता खतरे में पड़ती है तब-तब वे खुद की हत्या का नाटक शुरू कर देते हैं। मोदी जब मुख्यमंत्री थे तब उन्हें किसी ने नहीं मारा तो अब तो वे झेड प्लस सिक्यूरिटी में हैं, अब उन्हें कौन मारेगा। हार्दिक किसान क्रांति सेना के कार्यालय के शुभारंभ पर मंदसौर पहुंचे थे। इससे पहले उन्होंने भगवान पशुपतिनाथ के दर्शन किए। इस दौरान उन्होंने कहा देश में पहले ‘जय जवान, जय किसान’ का नारा था अब ‘मरो जवान-मरो किसान’ हो गया है। मीडिया से चर्चा में उन्होंने कहा कि मोदी की हत्या की चिट्ठी से यह तय हो गया है कि लोकसभा और विधानसभा के चुनाव साथ ही होंगे। अब सरकार किसानों के बीच में जात-पात की राजनीति करेगी और उन्हें तोड़ने का प्रयास करेगी। मध्यप्रदेश में 97 प्रतिशत लोग खेती करते हैं। जो खेती नहीं करते वे भी खेती से जुड़ा व्यवसाय करते हैं इसलिए किसानों को तोड़ा जाएगा। मोदी से बड़े नेता शिवराजसिंह चौहान हैं लेकिन सरकार शायद अमित शाह, कैलाश विजयवर्गीय को सीएम बनाना चाहती है। 

हार्दिक ने कहा मोदी व शिवराजसिंह चौहान खुद को किसान का बेटा कहते हैं, उन्हें यह तक नहीं मालूम कि ट्रैक्टर में गियर कितने होते हैं। यदि वे किसान पुत्र हैं तो किसान की बात करें। पिछले एक माह में 112 किसानों ने आत्महत्या की है यह आंकड़ा ऑन पेपर है। प्रदेश सरकार भावांतर की बात कह रही है जबकि भावांतर व्यापमं से भी बड़ा घोटाला है। प्रदेश की हर मंडी में 10 करोड़ से अधिक की गड़बड़ी हुई है। हम किसी भी पार्टी पर विश्वास नहीं करते। यदि कोई कर्जा माफी की बात करता है तो वह लिखित में दे और हल बताए कि किस तरह कर्ज माफ होगा। 

किसानों में फूट डाल रहे हैं सरकार द्वारा बनाए गए किसान संगठन
किसानों को कमजोर करने के लिए सरकार ने खुद के बहुत से संगठन बना लिए हैं। वे किसानों की चिंता नहीं करते। दिखावे के लिए सरकार से बात करते हैं, सरकार उनकी मांगें मान लेती हैं। इससे किसान दो भागों में बंट रहा है। किसानों को ऐसे संगठनों से बचना चाहिए जो राजनीतिक रोटियां सेंक रहे हैं। 

यह बात राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवकुमार शर्मा कक्काजी सोमवार को नई आबादी क्षेत्र में किसान क्रांति सेना के प्रांतीय कार्यालय के शुभारंभ पर कही। उन्होंने कहा कि किसानों को ऐसे संगठन को पहचानना होगा जो आपस में फूट डलवा रहे हैं। किसान क्रांति सेना राष्ट्रीय अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने कहा कि यह कार्यालय किसानों की समस्याओं का निदान करने के लिए है। मैं यहां हर 4 माह में आऊंगा। यहीं से प्रदेश की राजनीति निर्धारित की जाएगी। 

किसान क्रांति सेना प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र पाटीदार ने कहा कि कार्यालय का मुख्य उद्देश्य किसानों को जाग्रत करना है। यहां उनकी समस्याएं सुनी जाएंगी, उनके निदान के लिए प्रयास किया जाएगा। स्थानीय मुद्दा होगा तो वह खुद कार्यालय में पहुंचकर उसे दूर करने का काम करेंगे। शिवराज सरकार संगठन को दबाने का काम कर रही है। 2012 में भी शिवराज ने कक्काजी पर गोली चलवाई लेकिन वे बच गए। गोली हरिसिंह प्रजापति को लगी। सरकार ने रातोरात उसको दफन भी कर दिया। शव तक परिजन को नहीं दिया। कार्यक्रम को प्रदेश उपाध्यक्ष त्रिलोक गोटी ने भी संबोधित किया। 

हार्दिक ने कहा कि सरकार 24 घंटे बिजली देने का दावा कर रही है। सही मायने में 4 घंटे भी बिजली नहीं मिल रही है। किसान अनपढ़ है, किसी भी सरकार ने उन्हें खेती के उत्तम तरीके नहीं बताए। भावांतर योजना साइलेंट घोटाला है। प्रदेश की प्रत्येक मंडी में यह घोटाला हुआ है। सही मायने में तो भाजपा के लोग साइलेंट घोटाला करने में माहिर है। नर्मदा बचाओ सबसे बड़ा घोटाला है। वह इसलिए कि इसको उजागर करने वालों को मंत्री बना दिया गया। किसान यदि अपनी मांगों के लिए आंदोलन करता है तो उसे आतंकवादी, तस्कर बना दिया जाता है। यदि वह शांति से आंदोलन करता है तो उसे फेल बता दिया जाता है। 

यह रहेगा कार्यालय का काम 
प्रदेश अध्यक्ष पाटीदार ने बताया कार्यालय पर रोज स्टाफ मौजूद रहेगा जो कि किसानों की समस्याएं सुनेगा। यदि वह समस्या प्रदेश स्तर पर है तो उसे वहां पहुंचाया जाएगा। स्थानीय स्तर की है तो उसका निदान यहीं किया जाएगा। किसानों को विभिन्न जानकारियां भी यहीं से दी जाएंगी। 
BHOPAL SAMACHAR | HINDI NEWS का 
MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए 
प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->