Loading...

फर्जी डॉक्टर के इंजेक्शन से 2 साल के बेटी की मौत

मुरैना/पोरसा। कस्बे के धनेटा रोड पर शुक्रवार शाम को फर्जी डॉक्टर के इंजेक्शन से दो साल की बालिका की मौत हो गई। बालिका की मौत के बाद डॉक्टर ने बालिका व उसकी मां को जबरन उनके घर छोड़ा और क्लीनिक पर ताला लगाकर फरार हो गया। हालांकि घटना के बाद बालिका के परिजन पोरसा थाने में शिकायत लिखाने के लिए पहुंचे। साथ ही आरोपित डॉक्टर को गिरफ्तार करने की मांग करने लगे। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। घटनाक्रम के मुताबिक संगमनगर भिण्ड पचौरीपुरा पोरसा निवासी हुसैन खां की पत्नी रूबी बेगम अपनी दो साल की बेटी मरजीना को दिखाने के लिए धनेटा रोड पर फर्जी डाक्टर राजेश बरेठा को दिखाने उसकी क्लीनिक पर गई। बालिका को फोड़े फुंसी हो रहे थे। महिला ने बच्ची की फुंसियों पर लगाने के लिए दवा मांगी, लेकिन डॉक्टर ने इंजेक्शन लगाने के लिए बोला।

डॉक्टर राजेश बरेठा के यहां काम करने वाले लड़के ने बालिका को इंजेक्शन भी लगा दिया। इंजेक्शन लगने के बाद बालिका को घबराहट होने लगी। साथ ही थोड़ी ही देर में उसकी मौत हो गई। डॉक्टर ने तुरंत महिला व उसकी बेटी को जबरन उसके घर पर छोड़ा और क्लीनिक को बंद कर फरार हो गया।

घर पर जब बालिका को देखकर महिला रोने लगी तो परिवार के लोग व मोहल्ले के लोग एकत्रित हो गए। इसके बाद सभी थाने पहुंचे। पुलिस ने हुसैन खां की रिपोर्ट पर फर्जी डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया और शव को पीएम के लिए भेजा।

राजेश बरेठा के क्लीनिक पर हुआ है यह तीसरा मामला
लोगों ने बताया कि फर्जी डॉक्टर राजेश बरेठा के यहां बच्ची की शुक्रवार को इंजेक्शन लगाने से मौत हुई है। इससे पहले भी इस डॉक्टर के यहां दो मामले और हो चुके हैं। जिनमें लोगों की जान जा चुकी है। बावजूद इसके स्वास्थ्य विभाग या पुलिस इस डॉक्टर पर कार्रवाई नहीं करती।
BHOPAL SAMACHAR | HINDI NEWS का 
MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए 
प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com