व्यापमं घोटाले के दोषी कैदी की संदिग्ध मौत

24 June 2018

ग्वालियर। सीबीआई ने भले ही क्लीनचिट दे दी हो लेकिन व्यापमं घोटाले से जुड़े लोगों की संदिग्ध मौतों का सिलसिला जारी है। सभी मौतों में एक समान बात यह है कि व्यक्ति की मौत अचानक हुई और डॉक्टर उसे बचा नहीं पाए। एक्सीडेंट के अलावा लोग अचानक बीमार हुए और उनकी मौत हो गई। संबंधित बीमारी का पुराना रिकॉर्ड भी नहीं मिला। यहां ग्वालियर में व्यापमं फर्जीवाड़ा मामले में सजा काट रहे एक आरोपी अमर किशोर शर्मा निवासी ग्राम आरा गंगोली थाना बागचीनी जिला मुरैना की शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात जेएएच में इलाज के दौरान मौत हो गई। वह केन्द्रीय जेल में बंद था और 17 जून को तबीयत बिगड़ने पर उसे जेल के स्टाफ ने अस्पताल में भर्ती करवाया था। 

मृतक के पिता देवीराम का कहना है कि उसके शरीर पर चोटों के निशान हैं, इसलिए मामला संदेहास्पद है। शव का पोस्टमार्टम करने के बाद जांच के लिए बिसरा सुरक्षित रखा गया है। फिलहाल मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। अमर किशोर शर्मा को व्यापमं मामले में पिछले साल पुलिस ने गिरफ्तार किया था। 27 अक्टूबर 2017 से वह केन्द्रीय जेल ग्वालियर में बंद था। 

उसे परीक्षा अधिनियम और धोखाधड़ी के आरोप में सजा हो चुकी थी। 17 जून को अचानक तबीयत बिगड़ने पर जेल अस्पताल में जांच की गई। जहां से उसे जेएएच के मेडिसिन वार्ड में भर्ती किया गया था। डॉक्टरों के मुताबिक उसे हार्ट से जुड़ी समस्या थी। 
देश और मध्यप्रदेश की बड़ी खबरें MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week