शिवराज सिंह का नाम कोबरा पोस्ट के स्टिंग आॅपरेशन में

26 May 2018

उपदेश अवस्थी/भोपाल। मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान का नाम देश के बहुचर्चित स्टिंग आॅपरेशन ('ऑपरेशन 136') में आया है। यह आॅपरेशन कोबरा पोस्ट ने किया है। इस आॅपरेशन के माध्यम से कोबरा पोस्ट ने इस बात का खुलासा किया है कि देश के दिग्गज संस्थान पैसों के बदले भाजपा के पक्ष में अपने नियम तोड़ने को तैयार हैं। इस आॅपरेशन में कुछ दिग्गज मीडिया घरानों को भी स्पॉट किया गया है जिनके वरिष्ठ अधिकारी पैसों के बदले मनचाही खबरें प्रकाशित करने के लिए तैयार हुए। 

ऑपरेशन 136 के तहत कोबरा पोस्ट के वरिष्ठ पत्रकार पुष्प शर्मा ने पेटीएम के वाइस प्रेसिडेंट अजय शेखर शर्मा को केप्चर किया। उन्होंने अपना प्रस्ताव रखा और जानना चाहा कि पेटीएम किस तरह से उनकी विचारधारा को प्रमोट कर सकती है। कोबरा पोस्ट का दावा है कि अजय शेखर शर्मा ने बताया कि उसके कई दिग्गज भाजपा नेताओं से कारोबारी संबंध हैंं। वो निश्चित रहे। इस बातचीत के दौरान अजय शेखर शर्मा ने आरएसएस के अरुण कुमार, कृष्णा गोपाल, एस के मिश्रा और मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अपने कारोबारी रिश्ते होने की बात कही। आप पढ़ रहे हैं bhopalsamachar.com

चुनावी साल: शिवराज के सामने नया सवाल

कोबरा पोस्ट के इस स्टिंग आॅपरेशन के बाद पेटीएम को नुकसान होगा या नहीं यह तो बाद में पता चलेगा परंतु चुनावी साल में इस खुलासे के बाद शिवराज सिंह के सामने नया सवाल आ खड़ा हुआ है। राजनीति में अफवाहों और अनुमानों की सीमाएं नहीं होतीं। सवाल यह है कि शिवराज सिंह के पेटीएम से किस प्रकार के रिश्ते हैं। क्या शिवराज सिंह ने भी पेटीएम में निवेश किया है या फिर शिवराज सिंह ने पेटीएम से मप्र का डाटा हासिल किया है। बता दें कि चुनावी तैयारियों के दौरान शिवराज सिंह के लिए 'शिवराज के सिपाही' नियुक्त किए गए थे। कई लोगों ने दावा किया था कि उन्होंने इसके लिए अप्लाई नहीं किया परंतु हमारे मोबाइल पर एसएमएस आ गया कि हम 'शिवराज के सिपाही' बन गए हैं। आप पढ़ रहे हैं bhopalsamachar.com

पेटीएम को JABALPUR में मिली है जमीन

मध्यप्रदेश के जबलपुर स्थित आईटी पार्क में पेटीएम को अपना आॅफिस खोलने के लिए सस्ती दरों पर जमीन दी गई है। पेटीएम के संस्थापक ने शुरू में ऐलान किया था कि वो जबलपुर के 1 हजार युवाओं को रोजगार देंगे। बाद में जब शिवराज सिंह को नौकरियों के मामले में घेरा गया तो पेटीएम के विजय शेखर शर्मा ने 2 हजार नौकरियां देने का ऐलान किया। कोबरा पोस्ट के खुलासे के बाद इस डील पर संदेह किया जा सकता है। क्या सीएम शिवराज सिंह ने पेटीएम से डाटा के बदले सस्ती दरों पर जमीन दी और क्या पेटीएम ने शिवराज सिंह की मदद करने के लिए 2000 नौकरियां देने का ऐलान किया। आप पढ़ रहे हैं bhopalsamachar.com
BHOPAL SAMACHAR | HINDI NEWS का MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week