LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें





दमोह में भड़के किसान, डंडे फटकारे, बारदाना लूटा

20 May 2018

दमोह। किसानों को समर्थन मूल्य पर अपनी उपज बेचने के लिए मंडियों में परेशान होना पड़ रहा है। शनिवार को जिले की मंडी में बारदाना नहीं दिये जाने से परेशान किसान भड़क उठे और मंडी में रखा बारदाना लूट लिया, और जमकर हंगामा शुरू कर दिया। जिसके बाद कलेक्टर ने किसानों को समझाकर मामले को शांत किया। किसानों का आरोप है कि तीन दिन से बारदाने का इंतजार कर रहे हैं, फिर भी बारदाना नहीं मिल रहा।

दमोह जिले के बटियागढ़ में किसानों को बारदाना नहीं मिलने से तीन से पांच दिनों तक इंतज़ार करना पड़ रहा है। मंडी में बोरियां होने के बावजूद मंडी प्रबन्धन किसानों को बोरियां मुहैया नहीं करा रहा था। लेकिन, जब किसानों को ये मालूम चला की मंडी के गोदाम में बोरियां पडी़ हैं तो कई दिनों से परेशान किसानों ने गोदाम में रखे बारदाने को लूट लिया। जिसके हाथ में जितनी बोरियां आईं किसान ले गए और मंडी के जिम्मेदार अफसर-कर्मचारी सब देखते रह गए। 

व्यापारियों का माल खरीद रही है मंडी

किसानों का आरोप है कि व्यापारियों से मिलीभगत की वजह से सोसायटी के अधिकारी किसानों को बारदाना मुहैया नहीं करा रहे। यहां हालात इस कदर बिगड़ गए है कि किसान कुछ भी करने आमादा हैं। मंडी परिसर के अंदर किसान लाठियां तक भांज रहे हैं। यहां किसानों का आरोप है कि मंडी प्रबन्धन व्यापरियों का पुराना माल समर्थन मूल्य पर खरीद कर अपनी जेब गरम कर रहा है। ऐसे में वे कानून हाथ में न लें तो क्या करें।

किसानों ने डंडे फटकारे

एक दो नहीं बल्कि दर्जनों किसानों ने डंडे चलाये। जब तक पुलिस नहीं पहुंची तब तक आक्रोशित किसान हंगामा करते रहे। हालांकि इस डंडेबाजी की कोई शिकायत पुलिस के रोजनामचे में दर्ज नहीं हुई है। हटा मंडी में हालात जब ज्यादा बिगड़ने लगे तो दमोह में शनिवार दोपहर ही ज्वाइनिंग करने वाले नए कलेक्टर डॉ. विजय कुमार मौके पर पहुंचे और किसानों को भरोसा दिलाया कि जल्द ही सभी प्रकार की समस्याओं को दूर किया जाएगा। 



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->