12वीं की टॉपर्स लिस्ट में बालाघाट के 15 नाम

Monday, May 14, 2018

आनंद ताम्रकार/बालाघाट। बोर्ड परीक्षा के परिणामों में इस बार जिले के छात्र छात्राओं ने इतिहास रचते हुये बालाघाट जिले को गौरव प्रदान किये है। दोनों कक्षाओं की प्रदेश की प्रावीण्य सूची में इस बार 15 विद्यार्थीयों ने अपना नाम दर्ज कराया है, जिसमे कक्षा 12वी में 5 एवं 10वीं में 10 छात्र-छात्रायें शामिल है। प्रावीण्य सूची में शामिल विधार्थीयों को सम्मानित किये जाने के लिये उन्हें भोपाल बुलाया गया। जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा उनका सम्मान किया गया। 

यह उल्लेखनीय है कि बालाघाट जिले से पहली बार इतनी संख्या में विद्यार्थीयों ने प्रदेश की प्रावीण्य सूची में अपना नाम अंकित करवाया है जिसमें सर्वाधिक छात्राएं शामिल है। प्रावीण्य सूची में शामिल छात्र-छात्राओं में कक्षा 12वीं शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय बालाघाट पुष्पांजली पिता अनिल बघेल, दादाबाडी जैन उ.मा.वि. से डिम्पल पिता दीपक जैन, वैदिक कार्वेंट स्कूल लालबर्रा से साक्षी पिता हरिलाल पटले, शासकीय कन्या उ.मा.वि उकवा से विनीता पिता अन्नालाल पाण्डे ने प्रदेश की मैरिट लिस्ट में स्थान प्राप्त किया।

इसी प्रकार कक्षा 10वीं में प्रदेश की प्रावीण्य सूची में एमसीएस उ.मा.वि.बालाघाट वैष्णवी पिता सत्येन्द्र शरणागत, शासकीय उ.मा.वि.झालीवाडा से लक्ष्मी पिता करनलाल राहंगडाले, शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय बालाघाट से चित्रकला पिता जियालाल मरठे, मयूर पिता रामकुमार मरठे, खुशी पिता गुलाब यादव, जान्हवी पिता रामेश्वर पाटील, शासकीय हाईस्कूल धनसा स्नेहा पिता उदेलाल उपराडे, शासकीय उत्कृष्ट विधालय कटंगी से धुर्वो पिता रविन्द्र हरिनखेडे, अरूर्णोदय हाईस्कूल कनकी से मेघा पिता अरूण बिसेन और शासकीय हाईस्कूल नवेगांव कटंगी से पल्लवी पिता प्रभुदयाल ने अपना नाम दर्ज कराया है।

यह भी उल्लेखनीय है कि जिले के दिव्यांग छात्र अभिजीत पिता सूरजीत सिंह नगपुरे ने हायर सेकेण्डरी स्कूल परीक्षा में अपना नाम प्रथम स्थान पर दर्ज कराया वह बालाघाट जिले के बावनथडी गुरूकुल स्कूल चिखला बांघ का छात्र है वह लालपूर में पूर्व मंत्री डोमनसिंह नगपुरे जोकि उसके नाना है के यहां रहता था पढाई करता था मंत्री घर से स्कूल जाने के लिये उसे 10 किलोमीटर का सफर तय करना पडता था।

लालपूर के चिखला बांध तक लालपूर निवासी चिखलाबांध में पदस्थ शिक्षिका संगीता तिवारी द्वारा अपने वाहन में ले जाती थी उसके पिता सूरजीत नगपुरे इंजीनियर है सिवनी में रहते है। अभिजीत मुकबधिर दिव्यांग है। प्राचार्य डी के डहरवाल ने अवगत कराया की अभिजीत के दिव्यांग होने के कारण उसका वे विशेष ध्यान रखते थे अभिजीत ने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता पिता शिक्षिका संगीता तिवारी सहित स्कूल के समस्त स्टाफ को दिया।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah