PM MODI को काले झंडे दिखा हड़ताल पर बैठे NRHM कर्मचारी, बर्खास्तगी का नोटिस | EMPLOYEE NEWS

29 March 2018

जयपुर। प्रधानमंत्री को कार्यक्रम में काले झंडे दिखाने वाले नेशनल रूरल हेल्थ मिशन के 32 कर्मचारियों की नौकरी जा सकती है, साथ ही इन कर्मचारियों के खिलाफ आपराधिक मामले भी दर्ज किए गए हैं। इन कर्मचारियों ने 8 मार्च को झुंझुनू में प्रधानमंत्री का विरोध करते हुए काले झंडे दिखाए थे। ये कर्मचारी कॉन्ट्रेक्ट पर हैं, जो काफी समय से नैकरियां स्थायी करने और वेतन बढ़ाने को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। इनका कहना है कि इसी मांग पर पीएम का ध्यान दिलाने के लिए उन्होंने झुंझनू पहुंचे मोदी को काले झंडे दिखाए थे।  

काले झंडे दिखाने पर गिरफ्तारी
रूरल हेल्थ मिशन के 32 कर्मचारियों को उस समय गिरफ्तार किया गया था, जिन्हें बाद में जमानत मिल गई थी। अब इन सबको नौकरी से निकालने की तैयारी है। मोदी को काले झंडे दिखाए जाने के बाद अब हड़ताल कर रहे इन कर्मचारियों को नोटिस जारी कर कहा गया है कि ड्यूटी ज्वाइन ना करने पर उनकी नौकरी चली जाएगी। इन कर्मचारियों के धारा 147, 186, 336 और 353 के तहत आपराधिक मामले भी दर्ज किए गए हैं।

सात माह से कर रहे आंदोलन
ये कर्मचारी काफी समय से आंदोलन कर रहे हैं। आंदोलन कर रहे कर्मचारियों का कहना है कि सरकार का रवैया तानाशाही है। सात महीने तक आंदोलन महीने के बावजूद भी जब उनकी नहीं सुनी गई तो उन्होंने काले झंडे दिखाकर विरोध किया।

हमारे साथ आंतकियों जैसा सुलूक
आंदोलनकारियों का कहना है कि एनआरएचएम में 4 हजार कर्मचारी कॉन्ट्रैक्ट पर हैं, जिनको तनख्वाह और दूसरी सुविधाएं नहीं है, परिवार चलाना मुश्किल है, इसी को लेकर हम लोग सरकार तक अपनी बात पहुंचाना चाहते हैं। कर्मचारियों का कहना है कि पुलिस हमारे साथ ऐसे पेश आ रही है, जैसे हम कोई आतंकवादी हों।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->