MODI को PM बनाने में भी फेसबुक का हाथ है!: SCL FOUNDER अवनीश राय | NATIONAL NEWS

24 March 2018

नई दिल्ली। फेसबुक को माध्यम बनाकर चुनाव जीतने की साजिश में भाजपा को भी आरोपित किया गया है। एससीएल के संस्थापक अवनीश राय ने अपने बयान में बताया है कि 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले एक व्यक्ति ने अपनी पहचान गोपनीय रखते हुए कांग्रेस को हराने के लिए डील की थी। इसी के तहत सोशल मीडिया पर कांग्रेसियों का मजाक उड़ाया गया और कांग्रेसी नेताओं को ट्रोल करके उन्हे हतोत्साहित किया गया। चुनाव के दौरान यह सबकुछ कंपनी की तरफ से प्रबंधित किया गया। यदि इस बयान पर यकीन किया जाए तो पीएम नरेंद्र मोदी की रिकॉर्ड जीत के पीछे इस साजिश का महत्वपूर्ण हाथ है। 

अवनीश राय एससीएल इंडिया के संस्थापक हैं, जो लंदन में एससीएल ग्रुप और ओव्लेनो बिज़नेस इंटेलिजेंस का एक संयुक्त उपक्रम है। अवनीश राय ने कहा कि एलेक्जेंडर निक्स ने 2014 के संसदीय चुनाव से पहले भारत का दौरा किया था और उस वक़्त की सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस को हराने के लिए एक अनाम क्लाइंट के साथ काम किया था। बता दें कि 2014 के लोकसभा चुनाव में वर्तमान नरेंद्र मोदी को निर्णायक जीत मिली थी। मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने 543 लोकसभा सीटों में से 282 सीटें जीती थीं। यह जीत चौंकाने वाली थी। खुद भाजपा के रणनीतिकार और राजनीति के तमाम पंडित भी चौंक गए थे। 

अवनीश का बयान भाजपा को आरोपित करता है: कांग्रेस
कांग्रेस और भाजपा दोनों ही एससीएल इंडिया की क्लाइंट लिस्ट में शामिल हैं, लेकिन दोनों ही पार्टियां इस कंपनी के साथ किसी भी तरह का संबंध होने से इनकार करती हैं। कांग्रेस का सोशल मीडिया देख रहीं दिव्या स्पंदना ने बीबीसी से कहा कि कांग्रेस का कैंब्रिज एनालिटिका से कोई संबंध नहीं रहा है और ये अवनीश राय का बयान साबित करता है जो बात कांग्रेस कह रही थी वह सही है। 

हमें नहीं पता अवनीश कौन है: भाजपा 
इस समूचे मामले पर भाजपा के आईटी सेल और सोशल मीडिया के प्रमुख अमित मालवीय का कहना है, "मुझे नहीं पता कि अवनीश कुमार राय कौन हैं। भाजपा का उनसे कोई संपर्क नहीं रहा है। मैंने उनका इंटरव्यू नहीं देखा है। हमारा कैंब्रिज एनालिटिका से जुड़ी किसी भी कंपनी से कोई संबंध नहीं है।

एससीएल भारत में क्या करती है?
एससीएल इंडिया का दावा है कि इसके पास 300 स्थायी कर्मचारी हैं और भारत के 10 राज्यों में स्थित ऑफिसों में 1,400 से अधिक कन्सल्टिंग स्टाफ हैं। यह भारत में कई प्रकार की सेवाएं प्रदान करता है। इनमें "राजनीतिक अभियान प्रबंधन" शामिल है। जिसके तहत सोशल मीडिया रणनीति, चुनाव अभियान प्रबंधन और मोबाइल मीडिया मैनेजमेंट शामिल है। सोशल मीडिया रणनीति के तहत यह कंपनी "ब्लॉगर और प्रभावशाली मार्केटिंग", "ऑनलाइन की दुनिया में छवि निर्माण" और "सोशल मीडिया अकाउंट का दैनिक प्रबंधन" जैसी सेवाएं प्रदान करती है।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week