2018 में किस कन्या का विवाह सानंद होगा, किसमें आएंगे विध्न; यहां पढ़ें | JYOTISH

Friday, January 5, 2018

कन्या विवाह सम्बंध के लिये गुरु ग्रह का आपकी राशि से गोचर विशेष महत्व रखता है, आइए देखते है सभी राशियों के लिये गुरु ग्रह का गोचर और कुंवारी कन्याओं के लिये विवाह विचार: 
कन्या*-इस राशि के लिये गुरु ग्रह दूसरे स्थान मे भ्रमण कर रहा है इसीलिये इस राशि की कन्याओं के विवाह के लिये यह वर्ष शुभ है।
मिथुन*-इस राशि के लिये इस वर्ष गुरु पांचवे स्थान मे चल रहा है जो की विवाह के लिये अत्यंत शुभ है।
मेष*-इस राशि के लिये गुरु का भ्रमण सातवें स्थान से हो  रहा है जो इस वर्ष विवाह सम्बंध के लिये अति शुभ है।
कुम्भ*-इस राशि के लिये गुरु ग्रह इस समय नवम यानी भाग्य स्थान से भ्रमण कर रहा है जो विवाह सम्बंध हेतु अति शुभ है।
धनु*-इस राशि के लिये गुरु एकादश यानी लाभ स्थान से भ्रमण कर रहा है जो विवाह हेतु अत्यंत शुभ है।
उपरोक्त सभी राशि की कन्या यदि इस वर्ष विवाह योग्य है तो गुरुवार का व्रत करें तर्जनी अंगुली मे पुखराज धारण करें निश्चित रूप से विवाह सम्बंध होगा।

तुला*-इस राशि की कन्याओं के लिये इस वर्ष पहला गुरु है इस लिये गुरु ग्रह की पूजा वैदिक मन्त्रों का जाप अति आवश्यक है।
सिंह*-इस राशि के लिये इस समय गुरु तीसरे स्थान मे भ्रमण कर रहा है,इनको भी गुरु ग्रह की पूजा और वैदिक मन्त्रों के जाप आवश्यक है।
वृषभ*इस राशि की कन्याओं को लिये गुरु ग्रह का दान पूजा,मंत्र जाप आवश्यक है जिससे आपके विवाह मे विघ्न दूर होंगे।
मकर*-इस राशि के लिये गुरु राज्य स्थान मे है इसीलिये गुरु के मंत्र जाप, दान पूजा से विवाह सम्बंध सम्पन्न होगा।

इस वर्ष गुरु बाधक है इन राशि की कन्याओं के विवाह मेें
किसी भी कन्या के विवाह तथा उसके वैवाहिक जीवन मे शुभता के लिये गुरु ग्रह की स्थिति का विचार अत्यंत आवश्यक है। कन्या के विवाह का मुहूर्त निकालते समय गुरु ग्रह का चतुर्थ, अष्टम और बारहवें भाव मे रहना विवाह के लिये बाधक है जिन कन्याओं की राशि मे गुरु चौथा आठवां और बारहवें स्थान मे वर्तमान मे गोचर कर रहा है वे इस वर्ष अक्टूबर 2018 तक विवाह नही कर सकती।
कर्क*-इस राशि का गुरु इस समय चौथा चल रहा है इस राशि की कन्याओं के लिये इस वर्ष विवाह मुहूर्त नही है।
मीन*-इस राशि के लिये गुरु आठवे स्थान मे है,इसीलिये इस राशि की कन्या के लिये इस वर्ष विवाह योग नही है।
वृश्चिक*-इस राशि का गुरु इस समय व्यय स्थान मे है इसीलिये इस राशि के कन्याओं के लिये भी इस वर्ष विवाह के मुहूर्त नही है।
यदि आपकी राशि कर्क,वृश्चिक,मीन है तो आपको विवाह सम्बंध के दौरान किसी विद्वान पंडित से सलाह अवश्य लेना चाहिये।
*प.चंद्रशेखर नेमा"हिमांशु"*
9893280184,7000460931

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah