संविदा कर्मचारियों को अतिथि शिक्षकों की तरह नियमित किए जाने ज्ञापन सौंपा

26 October 2017

भोपाल। प्रदेश के समस्त विभागों में संविदा पर कार्यरत कर्मचारियों को अतिथि शिक्षक की भांति पदों का निर्माण कर नियमित किए जाने, विभागों में रिक्त पड़े पदों पर संविलयन किए जाने,  सभी विभागों से हटाये गये संविदा कर्मचारियों की सेवाएं पुनः बहाल किए जाने, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के सपोर्ट स्टाफ की सेवाएं रोगी कल्याण समिति को सौंपे जाने का आदेश निरस्त किए जाने की मांग को लेकर मप्र संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने कर्मचारी कल्याण समिति के अध्यक्ष राज्यमंत्री रमेश चंद्र शर्मा को ज्ञापन सौंपा। 

ज्ञापन सौंपकर अवगत कराया कि प्रदेश सरकार ने पंचायत कर्मियों, शिक्षाकर्मियों, गुरूजियों, दैनिक वेतन भोगियों को नियमित कर दिया जिनकी नियुक्ति सरंपचों ने की थी। सरकार यहीं नहीं रूकी यहां तक अतिथि शिक्षकों तक को नियमित करने के लिए नियमित पदों का आरक्षण कर दिया लेकिन विधिवत् चयन प्रक्रिया के माध्यम से नियुक्त हुए संविदा कर्मचारियों को अभी तक नियमित नहीं किया जिसके कारण प्रदेश के ढाई लाख संविदा कर्मचारियों में आक्रोश है। 

यदि सरकार ने संविदा कर्मचारियों को नियमित नहीं किया तो संविदा कर्मचारी अधिकारी सड़कों पर उतरने क लिए मजबूर होंगें। कर्मचारी कल्याण समिति के अध्यक्ष रमेश चंद्र शर्मा ने संविदा कर्मचारियों को नियमित किए जाने, हटाए गये संविदा कर्मचारियों की सेवा पुनः बहाल किए जाने, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के सपोर्ट स्टाफ की सेवाएं रोगी कल्याण समिति को सौंपे जाने के आदेश को निरस्त किए जाने के लिए कार्यवाही किए जाने का आश्वासन दिया।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week