Advertisement

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इटली के जोड़े ने भारत आकर मंदिर में किया विवाह



भोपाल। भले ही कुछ लोग लोकप्रिय संचार साधनों पर सवार होकर कुतर्क करते हों परंतु भारत की धर्म संस्कृति और रीति रिवाज पूरी दुनिया को लुभाते हैं। इसका एक प्रमाण खजुराहो में फिर सामने आ गया। इटली के वर वधु भारत आए और भारतीय नीति अनुसार विवाह संस्कार किया। उनका मानना है कि इससे उनका दाम्पत्य जीवन सुखद रहेगा। 

बुंदेलखंड के प्रसिद्ध जटाशंकर धाम मंदिर में दूल्हा बने आंद्रेय (45) और दुल्हन बनी कैटरीना (40) ने शुक्रवार को अग्नि को साक्षी मानकर सात फेरे लिए। इसके बाद गोविंद आश्रम के श्री डंडी स्वामी महाराज से आशीर्वाद लेकर अपने वैवाहिक जीवन को लेकर कुछ संकल्प लिए। आंद्रेय इटली में वाटर प्यूरीफायर सप्लाई का काम करते हैं। जबकि, कैटरीना पोस्ट ऑफिस में नौकरी करती हैं। आंद्रिया ने बताया कि उनकी पिछले दो सालों से इच्छा थी कि वह अपनी प्रेमिका कैटरीना से भारत जाकर हिंदू रीति-रिवाज से शादी करें ताकि उनका आगे का वैवाहिक जीवन लंबा और सुखमय रह सके।

इस जोड़े के आध्यात्मिक गुरू डॉ. राघव पाठक ने बताया कि आंद्रेय तलाकशुदा हैं और विदेशों में अस्थिर होते जा रहे दांपत्य जीवन को लेकर काफी आहत थे। लिहाजा उन्होंने अपनी प्रेमिका से हिंदू रीति-रिवाज से शादी करने का निश्चय किया था। गौरतलब है कि पिछले सप्ताह ही खजुराहो में ब्राजील के उलिसिया और लिजिया ने भी हिंदू रीति-रिवाज से शादी रचाई थी। इस सप्ताह में यह विदेशियों की यहां दूसरी शादी है।