BHOPAL NEWS - जनसुनवाई में 109 आवेदन आए, एक का भी निराकरण नहीं किया

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने साप्ताहिक जनसुनवाई कार्यक्रम का निर्धारण इसलिए किया था ताकि लोगों की समस्याओं का तत्काल निराकरण हो सके लेकिन अब सरकार बदल गई है और राजधानी भोपाल के कलेक्टर कार्यालय में इसका असर दिखाई दे रहा है। मंगलवार को जनसुनवाई में 109 आवेदन आए। इनमें से एक का भी निराकरण नहीं किया गया। 

भोपाल जनसुनवाई में कलेक्टर उपस्थित नहीं थे 

कलेक्टर कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार, कलेक्टर श्री कौशलेंद्र विक्रम सिंह के निर्देशन में मंगलवार को एडीएम श्री भूपेन्द्र गोयल, श्री अंकुर मेश्राम, डिप्टी कलेक्टर राजेश सोरते, ज्वाइंट कलेक्टर निधि चौकसे, श्री अजय शर्मा एवं अन्य अधिकारियों ने जिले से जनसुनवाई में आए नागरिकों की समस्याएं सुनीं। जनसुनवाई में आए नागरिकों से लगभग 109 से अधिक आवेदन प्राप्त हुए। 

धैर्यपूर्वक समस्याओं पर चर्चा की और आश्वासन दिया

कलेक्टर कार्यालय की ओर से प्रेस को बताया गया है कि, अपर कलेक्टर श्री मेश्राम, श्री गोयल एवं अन्य अधिकारियों ने जनसुनवाई में आए हर एक आवेदक से धैर्यपूर्वक उनकी समस्याओं पर चर्चा की और उन्हें उनके शीघ्र निराकरण का आश्वासन भी दिया। उन्होंने न केवल मौके पर मौजूद अधिकारियों को नागरिकों से प्राप्त आवेदनों पर संवेदनशील रूख अपनाते हुए निराकरण के निर्देश दिए। उन्होंने आवेदकों की समस्याओं पर संबंधित क्षेत्र के अधिकारियों को कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

जनसुनवाई कार्यक्रम की खास बातें
  1. कलेक्टर उपस्थित नहीं थे लेकिन उन्होंने अपनी टीम को जनता की सुनवाई के लिए भेजा। 
  2. जनसुनवाई में 109 से ज्यादा आवेदन आए। 
  3. अधिकारियों ने धैर्य पूर्वक समस्याओं को सुना। 
  4. अधिकारियों ने समस्याओं के निराकरण का आश्वासन दिया। 

विनम्र अनुरोध 🙏कृपया हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। सबसे तेज अपडेट प्राप्त करने के लिए टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें एवं हमारे व्हाट्सएप कम्युनिटी ज्वॉइन करें। इन सबकी डायरेक्ट लिंक नीचे स्क्रॉल करने पर मिल जाएंगी। भोपाल के महत्वपूर्ण समाचार पढ़ने के लिए कृपया स्क्रॉल करके सबसे नीचे POPULAR Category में Bhopal पर क्लिक करें।
Tags

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !