NTA SCAM के खिलाफ भोपाल में कांग्रेस पार्टी का धरना प्रदर्शन - NEWS TODAY


नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा आयोजित NEET एवं NET परीक्षा में गड़बड़ी के खिलाफ मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कांग्रेस पार्टी द्वारा धरना प्रदर्शन किया गया। इस दौरान कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने NEET SCAM की CBI द्वारा जांच करने की मांग की। 

VYAPAM SCAM FATHER OF ALL EXAM SCAM 

कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी ने व्यापम घोटाले को पूरे भारत में होने वाले परीक्षा घोटाले का जन्मदाता बताया है। उल्लेखनीय है कि व्यापम घोटाले में CBI जांच के बाद भी मुख्य आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज नहीं हुआ। आरोप लगाया जाता है कि CBI के इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर्स ने उसे पूरे सिंडिकेट को सुरक्षित बचा लिया, जो मध्य प्रदेश व्यापम घोटाले के लिए जिम्मेदार था। केवल उन विद्यार्थियों और उनसे जुड़े हुए कुछ लोगों को आरोपी बनाया गया जिन्होंने परीक्षा में पास होने के लिए रिश्वत दी थी या फिर बिचौलिया की भूमिका निभाई थी। इसके कारण देशभर में परीक्षा एजेंसी संचालक अधिकारियों के हौसले बढ़ गए, और अब पूरे देश में व्यापम घोटाले जैसे घोटाले दिखाई दे रहे हैं। 

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने प्रदीप जोशी को सभी घोटालों का जिम्मेदार बताया

राजधानी भोपाल में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी के नेतृत्व में जिला/शहर कांग्रेस कमेटी द्वारा देश और प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा आयोजित परीक्षाओं में हो रही धांधली, भ्रष्टाचार के खिलाफ धरना-प्रदर्शन किया गया। जीतू पटवारी ने कहा कि प्रदीप जोशी मप्र पीएससी के चेयरमेन बने तब पेपर लीक हुए, पक्षपात हुआ, बाद इन्हें छत्तीसगढ़ में पीएससी का चेयरमेन बना दिया, यहां भी पेपर लीक हुआ और फिर उन्हें दिल्ली में यूपीएससी का चेयरमेन बना दिया, जहां-जहां प्रदीप जोशी गये वहां घोटाले होते गये, घोटालों की लंबी फेहरिस्त इनके कार्यकाल की है। इनके कार्यकाल में क्या-क्या हुआ पूरा देश जानता है। इतना ही नहीं यहां कार्यकाल पूरा होने के बाद उन्हें एनटीए का चेयरमेन बना दिया और इनकी सरपरस्ती में नीट के पेपर लीक हुए, जिससे देश भर के नीट एवं अन्य परीक्षाओं में शामिल छात्र-छात्राओं में आक्रोश पैदा हुआ और वे नीट के विरोध में आंदोलन करने पर आमादा हो गये।

श्री पटवारी ने कहा कि सबसे बड़ा दुखद प्रसंग और हास्यास्पद यह है कि नीट के पेपर लीक कांड की जांच के लिए उसी प्रदीप जोशी को जांच समिति का अध्यक्ष बना दिया। यानि जो इस अराजकता का जिम्मेदार है वही व्यक्ति इस पेपर लीक कांड की जांच करेगा। श्री पटवारी ने कहा कि नीट की परीक्षा को रद्द कर सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में इसकी निष्पक्ष जांच की जानी चाहिए।

विरोध प्रदर्शन में कांग्रेस के प्रमुख चेहरे

धरना-प्रदर्शन को पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, प्रदेश सहप्रभारी सीपी मित्तल, मुकेश नायक, पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल, पीसी शर्मा, जिला शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्षद्वय प्रवीण सक्सेना, अनोखी मानसिंह पटेल आदि ने भी संबोधित किया। धरना प्रदर्शन में प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष राजीव सिंह, अरूण श्रीवास्तव, श्रीमती विभा पटेल, जे.पी. धनोपिया, दीपचंद यादव, डॉ. महेन्द्र सिंह चौहान, भूपेन्द्र गुप्ता, सुश्री संगीता शर्मा, राजकुमार सिंह, संजीव सक्सेना, आशुतोष चौकसे, विवेक त्रिपाठी, अभिषेक शर्मा, रवि परमार, महावीर गुर्जर, रितू बराला, उसमान अंसारी, फिरोज खान, शाहजहां खान, गुड्डू चौहान सहित वरिष्ठ नेतागण एवं बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !