BHOPAL NEWS - विधानसभा चुनाव के बाद मंत्रालय में आग, मध्य प्रदेश सरकार ने आर्मी बुलाई

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में स्थित वल्लभ भवन मंत्रालय में आज अचानक आग लग गई। यहां पर सुरक्षा के तमाम इंतजाम थे। सतपुड़ा भवन में आज की घटना के बाद यहां पर ऐसे किसी भी हादसे से बचने के लिए सभी प्रबंध कर लिए गए थे और फिर विधानसभा चुनाव भी संपन्न हो चुके हैं। इसके बावजूद मंत्रालय में आग लग गई। मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने इस घटना की जांच के आदेश दिए हैं। जांच के दौरान पता लगाया जाएगा कि आग क्यों लगी है। भोपाल मंत्रालय में लगी हुई आग को बुझाने के लिए मध्य प्रदेश सरकार ने इंडियन आर्मी बुलाई है। उन्होंने कंट्रोल अपने हाथ में ले लिया है।

भारतीय सेना के जवानों ने मंत्रालय की आग बुझाई

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में मंत्रालय वल्लभ भवन के गेट नंबर 5 और 6 के बीच बड़ी बिल्डिंग की पांचवीं मंजिल पर शनिवार सुबह करीब 9.30 बजे आग लग गई। देखते ही देखते आग चौथी और तीसरी मंजिल पर भी फैल गई। भोपाल, रायसेन, विदिशा के अलावा एयरपोर्ट, भेल और सेना की 100 से अधिक दमकलें और टैंकर आग बुझाने में जुटे रहें। इस दौरान सेना के जवानों ने बिल्डिंग पर चढ़कर आग बुझाई। इस दौरान SDRF जवान की आंख में चोट लग गई। मौके पर 200 से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे। 3 घंटे बाद आग पर काबू पाया जा सका।

छुट्टी वाले दिन आग लगाई ताकि कर्मचारी कुछ ना कर पाएं 

बहुत सारे संकट इस बात के मिल रहे हैं कि आग लगाई गई है। इसके लिए छुट्टी वाले शनिवार का दिन चुना गया ताकि कर्मचारी ना हो। यदि कर्मचारी मंत्रालय में होते तो वह अति आवश्यक दस्तावेजों को बचाने का काम कर सकते थे। आप पर काबू पाने के प्रयासों को तेज कर सकते थे। दोपहर तक आग पर काबू पाने का औपचारिक प्रयास चला रहा। जब आग पूरी तरह से भड़क गई, दो कर्मचारी घायल हो गए और पता चला की पांच कर्मचारी फंसे हुए हैं, तब कहीं जाकर असली ऑपरेशन शुरू हुआ। इधर, आग की सूचना पर पीसीसी चीफ जीतू पटवारी भी वल्लभ भवन पहुंच गए। लेकिन, पुलिस ने उन्हें आगे जाने से रोक दिया। इससे नाराज होकर पटवारी वल्लभ भवन के सामने धरने पर बैठ गए। उन्होंने कहा- यह सरकारी आग है, जानबूझ लगाई गई है।

दोपहर तक मौके पर सिर्फ चार फायर ब्रिगेड

भोपाल में वल्लभ भवन के गेट नंबर 5 और 6 के बीच बड़ी बिल्डिंग की तीसरी मंजिल पर शनिवार सुबह आग लग गई। मंत्रालय में लगी आग की सूचना नगर निगम फायर कंट्रोल रूम को सफाई कर्मचारी ने दी। कंट्रोल रूम से चार दमकलों को भेजा गया है। आग बुझाने का प्रयास किया जा रहा है लेकिन आग फैलते ही जा रही है। बताया जा रहा है कि दमकल के 5 कर्मचारी फंस गए हैं। 

बंसल वाली कार्रवाई के बाद मंत्रालय में काफी हलचल मची हुई थी

सूत्रों का कहना है कि बंसल वाली कार्रवाई के बाद मंत्रालय में काफी हलचल मची हुई थी। किसी को उम्मीद नहीं थी कि इतनी बड़ी कार्रवाई हो जाएगी। सबका मानना था कि बंसल वालों के बड़े अच्छे संबंध है। सवाल यह है कि कहीं कुछ ऐसे ही दस्तावेज तो नहीं थे, जिन्हें स्वाहा कर देना जरूरी हो गया था।
Tags

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !