MP NEWS - पन्ना जिले की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की नियुक्ति हाईकोर्ट द्वारा निरस्त

जबलपुर स्थित हाई कोर्ट आफ मध्य प्रदेश के विद्वान न्यायाधीश, जस्टिस विवेक अग्रवाल द्वारा पन्ना जिले में चयनित एक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की नियुक्ति निरस्त करने के आदेश जारी कर दिए गए। एकलपीठ ने अपने आदेश में कहा है कि नियमानुसार पंचायती राज संस्थाओं में निर्वाचित तथा मनोनीत सदस्यों के सगे संबंध आंगनवाड़ी कार्यकर्ता प्रक्रिया में शामिल नहीं हो सकते हैं। 

MP NEWS - सरकारी कर्मचारी और पंच-सरपंच के रिश्तेदार आंगनवाड़ी कार्यकर्ता नहीं बन सकते

याचिकाकर्ता तुलसा बाई की तरफ से दायर की गई याचिका में कहा गया था कि पन्ना जिले की चोपड़ा ग्राम स्थित केंद्र में अनीता गौड को आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के रूप में नियुक्ति प्रदान की गई है। याचिका में कहा गया है कि चयनित आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का पति ग्राम पंचायत का निर्वाचित पंच है। याचिकाकर्ता की तरफ से नियमों का हवाला देते हुए कहा गया कि सरकारी तथा पंचायती राज संस्थानों के निर्वाचित तथा मनोनीत सदस्यों के सगे रिश्तेदार आंगनवाड़ी कार्यकर्ता चयन प्रक्रिया में शामिल नहीं हो सकते हैं।

नियम विरुद्ध की गई नियुक्ति के खिलाफ उसने सागर संभागायुक्त के समक्ष अपील दायर की थी। संभागायुक्त द्वारा अपील खारिज किए जाने के कारण उक्त याचिका हाईकोर्ट में दायर की गई। एकलपीठ ने अपने आदेश में कहा कि अनावेदक चयनित महिला का पति ग्राम पंचायत में पंच है। इसलिए वह चयन प्रक्रिया के अयोग्य है और उसकी नियुक्ति निरस्त की जाती है। 

⇒ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !