BHOPAL के अधिकारी और JABALPUR की महिला अधिकारी के खिलाफ रिश्वतखोरी की शिकायत

डिप्लोमा इन एग्रीकल्चर एक्सटेंशन सर्विसेज फॉर इनपुट डीलर्स (DAESI) के भोपाल प्रोजेक्ट डायरेक्टर और AGRICULTURAL TECHNOLOGY MANAGEMENT AGENCY JABALUR की महिला अधिकारी के खिलाफ लोकायुक्त एवं मध्य प्रदेश शासन की EOW में मामला दर्ज करने हेतु शिकायत की गई है। 

डिप्लोमा इन एग्रीकल्चरल एक्सटेंशन सर्विसेज फॉर इनपुट डीलर्स

यह शिकायत भारतीय किसान संघ की ओर से की गई है और दावा किया गया है की शिकायत के साथ सभी आवश्यक सबूत संलग्न किए गए हैं। भारतीय किसान संघ की ओर से बताया गया है कि, कृषि आदान विक्रेताओं एवं डीलर्स के लिए एक वर्षीय डिप्लोमा कोर्स-डिप्लोमा इन एग्रीकल्चरल एक्सटेंशन सर्विसेज फॉर इनपुट डीलर्स (देसी) करवाया जाता है। इसके तहत पढ़ाई (40 थ्योरी और 8 प्रायोगिक क्लास) करवाई जाती है और फिर परीक्षा का आयोजन करने के बाद क्वालीफाई कैंडिडेट्स को डिप्लोमा दिया जाता है। 

केपी अहरवाल और नम्रता उरकुड़े के खिलाफ लोकायुक्त में शिकायत

जबलपुर में परीक्षार्थियों से परीक्षा के पहले 4-4 हजार रुपए प्रति परीक्षा थी रिश्वत ली गई और बदले में वादा किया गया कि परीक्षा के बिना ही उन्हें डिप्लोमा मिल जाएगा। भारतीय किसान संघ का आप है कि, इस आर्थिक अपराध में मुख्य रूप से जबलपुर में आत्मा की अधिकारी नम्रता उरकुड़े सहित भोपाल देसी प्रोजेक्ट के डायरेक्टर केपी अहरवाल शामिल हैं। किसान संघ के अनुसार उनके पास इसके पर्याप्त सबूत हैं और उन्होंने अपनी शिकायत में उन्हें संलग्न किया है। 

⇒ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।
Tags

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !