MP NEWS - व्यावसायिक शिक्षकों का प्रश्न एक बार फिर विधानसभा में

मध्य प्रदेश शासन, स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा संचालित समग्र शिक्षा अभियान के अंतर्गत नवीन व्यावसायिक शिक्षा योजना के लिए नियुक्त किए गए व्यवसायिक शिक्षकों की समस्याओं के समाधान के लिए एक बार फिर विधानसभा में प्रश्न लगाया गया है। इसमें पूछा गया है कि क्या व्यवसायिक शिक्षकों को भी नियमित शिक्षकों के समान वेतन और सुविधाओं की कोई पॉलिसी प्रक्रिया में है। 

तारांकित प्रश्न क्रमांक 347, विधायक श्री शैलेन्द्र कुमार जैन ने पूछा है कि, क्या माननीय स्कूल शिक्षा मंत्री महोदय यह बताने की कृपा करेंगे कि,
(क) क्या माननीय श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा लागू केंद्र सरकार की महत्वकांक्षी योजनाओं में से एक नवीन व्यावसायिक शिक्षा (NSQF) योजना मध्यप्रदेश के स्कूल शिक्षा विभाग के समग्र शिक्षा अभियान के अंतर्गत विगत वर्षों से संचालित है, जिसमें व्यावसायिक प्रशिक्षकों के माध्यम से शासकीय विद्यालयों में रोजगारोन्मुखी कौशल का विकास विद्यार्थियों में कराया जा रहा है? 
(ख) क्या वोकेशनल ट्रेनिंग प्रोवाइडर (आउटसोर्सिंग कम्पनी) के माध्यम से कार्यरत व्यावसायिक प्रशिक्षकों शिक्षकों द्वारा वर्तमान महंगाई दर को देखते हुये नवीन वेतनमान का निर्धारण प्रतिवर्ष वेतनवृद्धि, स्थायी जॉब पॉलिसी, मातृत्व अवकाश, मेडिकल अवकाश वर्ष 1998-99 में नियुक्त अंशकालिक व्यावसायिक प्रशिक्षकों की भांति विभागीय संविलियन की कोई नीति शासन के समक्ष विचाराधीन है? 
(ग) यदि हाँ तो कब तक इसे पूर्ण कर लिया जायेगा? यदि नहीं तो इसका क्या कारण है।

मध्यप्रदेश विधान सभा सचिवालय की ओर से बताया गया है कि, विधानसभा में इस प्रश्न का उत्तर भेजने के लिए विभाग को 5 फरवरी तक का समय दिया गया है और निर्धारित किया गया है कि विधानसभा सदन में सरकार की तरफ से दिनांक 12 फरवरी 2024 को इस प्रश्न का उत्तर दिया जाएगा। 

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !