जानलेवा लाल बिच्छू के डंक का नया इलाज - New treatment for deadly red scorpion sting

भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा बताया गया है कि दुनिया भर के सबसे खतरनाक और जानलेवा बिच्छुओं में से एक भारतीय लाल बिच्छू के डंक का एक नया और प्रभावशाली इलाज विकसित कर लिया गया है। इसके कारण मरीज का ब्लड शुगर नहीं बढ़ता और दूसरी वैसी कोई परेशानी नहीं होती जो पुरानी दवा के कारण होती थी। 

भारतीय दवा से दुनिया भर में लाखों लोगों की जान बचाई जाएगी

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से बताया गया है कि, भारतीय लाल बिच्छू के डंक के जानलेवा जहर से बचने के लिए यह इलाज वाणिज्यिक घोड़े के एंटी-बिच्छू एंटीवेनम (एएसए), अल्‍फा1-एड्रेनोसेप्टर एगोनिस्ट (एएए) और विटामिन सी की कम खुराक से बना है। पुराने इलाज में मरीजों को कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ता था परंतु इस नए इलाज में मरीज को कोई परेशानी नहीं होती। यह इलाज पहले की तुलना में कम खर्चीला है। इस इलाज की मदद से दुनिया भर में लाखों लोगों की जान बचाई जाएगी। 

भारतीय लाल बिच्छू के डंक के लक्षण और असर 

  • मरीज को तेज दर्द होता है। 
  • डंक वाले स्थान पर सूजन आ जाती है। 
  • पेट में ऐंठन होने लगती है। 
  • मतली और उल्टी आती है। 
  • तेज पसीना आने लगता है। 
  • सांस लेने में तकलीफ होती है। 
  • चक्कर आने लगते हैं और बेहोशी छा जाती है। 
  • हार्टबीट बढ़ जाती है और इसके कारण मृत्यु हो जाती है।  

 पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !