MP NEWS - सीएम की घोषणा के बाद भी अतिथि शिक्षकों के हालात नहीं बदले, दीपावली पर मानदेय तक नहीं मिला

मध्य प्रदेश अतिथि शिक्षक समन्वय समिति के प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह परिहार ने बताया है कि मुख्यमंत्री जी की घोषणा के बाद भी अतिथि शिक्षकों के हालात नहीं बदले। गौरलतलब है कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अतिथि शिक्षक पंचायत आयोजित करके अतिथि शिक्षकों को अनेक सौग़ातें दी थी। दुगुना मानदेय वृद्धि को छोड़कर कोई भी आदेश नहीं हुआ। 

उसमें भी असमंजस की स्थिति बनी हुई है आखिर दुगुना मानदेय कब से मिलेगा। पिछले चुनाव में कांग्रेस पार्टी ने सरकार बनने पर तीन महीने में नियमित करने का वचन दिया था। सरकार बनने के बाद अतिथि शिक्षक उनको पिछले 15वर्ष का कचरा नजर आने लगा था। वर्तमान बीजेपी सरकार ने भी अतिथि शिक्षक पंचायत में कई सौग़ातें दी थी पर आदेश आज भी अधर में हैं। संगठन शिक्षा मंत्री जी और शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को आदेश जारी करवाने के लिए कई बार आग्रह कर चुके हैं। कुल मिलाकर दोनों ही पार्टियों की सरकारों ने अतिथि शिक्षकों के साथ छलावा किया है। मुख्यमंत्री जी की घोषणानुसार विगत सत्र में कार्यरत किसी भी अतिथि शिक्षक को बाहर नहीं करेंगे। लेकिन उसके बाद ही सीधी भर्ती, प्रमोशन और ट्रांसफर से लगभग 35 हजार लोगों को बेरोजगार कर दिया है। 

आदेश ना होने से अतिथि शिक्षकों में आक्रोस है। माननीय मुख्यमंत्री जी अतिथि शिक्षकों का दुगुना मानदेय करने के लिए आपको साधुवाद। आज भी अतिथि शिक्षक घोषणा संबंधी आदेश के लिए आशांवित् हैं। आज भी प्रदेश के हजारों अतिथि शिक्षकों को महीनों से मानदेय नहीं मिला। यदि आदेश ना हो पाएं तो दीपावली पर मानदेय तो दिलवा दीजिये। 

 पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है। 

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !