अतिथि शिक्षकों में आक्रोश, मानदेय वृद्धि के अलावा अन्य आदेश अधर में - MP NEWS

अतिथि शिक्षक पंचायत में माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अतिथि शिक्षकों की विभागीय परीक्षा, आरक्षण बोनस अंक, अनुबंध और दुगुना मानदेय वृद्धि करने की घोषणा की थी। जिसमें से मानदेय वृद्धि को छोड़कर अन्य कोई ना होने से अतिथि शिक्षकों में आक्रोश पनप रहा है। 

गौरतलब है कि माननीय मुख्यमंत्री जी ने मंच से घोषणा की थी किसी भी कार्यरत अतिथि शिक्षक को बेरोजगार नहीं किया जायेगा। लेकिन घोषणा के बाद सीधी भर्ती, प्रमोशन और ट्रांसफर से हजारों अतिथि शिक्षक बेरोजगार हो गए हैं। स्कूल शिक्षा मंत्री माननीय इंदर सिंह परमार जी घोषणा संबंधी आदेश जारी करने बहुत पहले नोटशीट भेज चुके हैं। मध्यप्रदेश राज्य कर्मचारी कल्याण समिति के अध्यक्ष श्री रमेशचंद्र शर्मा जी और अधिकारियों का कहना है कि आदेश प्रक्रिया में हैं सभी आदेश जारी होंगे। 

अतिथि शिक्षक  समन्वय  समिति के प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह परिहार ने दुगुना मानदेय वृद्धि के लिए सभी अतिथि शिक्षकों की ओर से मुख्यमंत्री जी का आभार जताया है। साथ ही घोषणा संबंधी अन्य आदेश शीघ्र जारी करने का आग्रह किया है। 

संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारी पी डी खैरवार , रविकांत गुप्ता राजकुमार कुशवाह ने मांग की है कि सीधी भर्ती, प्रमोशन और ट्रांसफर से प्रभावित अतिथि शिक्षकों को रिक्त पदों पर समायोजित किया जाय। दीपावली से पूर्व मानदेय का भुगतान किया जाय। प्रदेश के समस्त अतिथि शिक्षकों को विगत  तीन माह से मानदेय नहीं मिला है। 

 पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !