MP karmchari news - पति पत्नी दोनों की चुनाव ड्यूटी नहीं लगाएं, कर्मचारी संघ की मांग

जबलपुर
। मध्य प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने मध्य प्रदेश राज्य निर्वाचन पदाधिकारी से अपील की है कि, वह मध्य प्रदेश के सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों को निर्देशित करें कि गंभीर रूप से बीमार और पति-पत्नी दोनों की ड्यूटी चुनाव के लिए नहीं लगवाएं।

जिन महिला कर्मचारियों के बच्चे छोटे हैं, उन्हें चुनाव ड्यूटी से मुक्त रखें

मध्य प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने जारी विज्ञप्ति में बताया मध्यप्रदेश विधान सभा चुनाव में चुनावी अमले के लोक सेवक जो गंभीर बीमारियों से ग्रसित हैं, जैसे हृदय रोग, कैंसर, रक्तचाप, गंभीर मधुमेय, लकवा, ब्रेन ट्यूमर, किडनी रोग, डायलेसिस के साथ-साथ अस्थाई द्विव्यांगता से पीडित हैं साथ ही वर्ष कोरोना जैसे वैश्विक बीमारी की चपेट में आकर गंभीर रूप से ग्रसित हुए लोक सेवकों को चुनावी कार्य से दूर रखा जावे, क्योंकि ऐसे कर्मचारी को अपने परहेजी सादे खान-पान के साथ ही समय पर दवाईयों पर आश्रित रहना पडता है एवं जिन्हें कभी भी चिकित्सा सुविधा की आवश्यकता पड सकती है को चुनावी मतदान दल से मुक्त रखा जावे ताकि मतदान दल के अन्य सदस्यों को चुनाव कार्य संपन्न कराने में परेशानी न हो। ऐसे पति / पत्नी दोनो ही लोक सेवक हो उनमें से किसी एक की ही चुनावी डयूटी लगाई जानी चाहिए जिससे पारिवारिक दायित्वों का निर्वहन हो सके। तथा ऐसी महिला लोक सेवक जिनकी तीन वर्ष से कम के छोटे बच्चे हैं उन्हें भी चुनाव कार्य से मुक्त रखा जाये।

संघ के योगेन्द्र दुबे, अर्वेन्द्र राजपूत, अवधेश तिवारी, अटल उपाध्याय, चन्दु जाउलकर, विपिन शर्मा, वीरेन्द्र तिवारी, धनश्याम पटैल, प्रशांत श्रीवास्तव, साहिल सिद्दीकी, रमेश उपाध्याय, राजकुमार मिश्रा, जगत पटैल, विट्टू आहलूवालिया, उमेश पारिख, आदि ने कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी जबलपुर से मांग है कि गंभीर बीमारी से ग्रसित लोक सेवकों को चुनाव डयूटी से मुक्त रखा जाये तथा पति / पत्नी में से किसी एक की ही चुनाव डयूटी लगाई जावे। 

 पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !