MP NEWS- उज्जैन में शिक्षक की मौत, गंभीर हालत में भी मूल्यांकन से छुट्टी नहीं दी थी

Madhya Pradesh Government School Education Department news

मध्य प्रदेश के उज्जैन में एक शासकीय शिक्षक की अचानक तबीयत खराब हुई और समय पर अस्पताल नहीं पहुंचने के कारण मृत्यु हो गई। शिक्षक की ड्यूटी मूल्यांकन कार्य में लगाई गई थी। उसने अपनी तबीयत खराब होने की जानकारी देकर छुट्टी मांगी थी परंतु उसे छुट्टी नहीं दी गई थी। कहा था कि नियमानुसार आवेदन लिखकर लाओ। 

शिक्षक की तबीयत बिगड़ रही थी और अधिकारी लिखित आवेदन मांग रहे थे

उज्जैन के महिदपुर विकासखंड में उत्कृष्ट विद्यालय को बोर्ड पेटर्न बर्वी कक्षा पांच एवं आठ की परीक्षाओं के मूल्यांकन का केंद्र बनाया गया है। गोगापुर शासकीय स्कूल में पदस्थ शिक्षक श्री प्रेम सिंह डाबी की ड्यूटी इसी केंद्र में मूल्यांकन के लिए लगाई गई थी। अचानक उनकी तबीयत बिगड़ने लगी। उन्होंने केंद्र प्रभारी से छुट्टी मांगी परंतु केंद्र प्रभारी ने तत्काल छुट्टी लेने से इनकार कर दिया। कहा कि नियम अनुसार आवेदन लिखकर लाइए। शिक्षक श्री प्रेम सिंह डाबी जब अपने एक अन्य साथी शिक्षक के साथ आवेदन लिखने जा रहे थे तभी उनकी तबीयत और ज्यादा बिगड़ गई। 108 एंबुलेंस बुलाई गई। जब तक एंबुलेंस आई और उन्हें अस्पताल ले जाया गया तब तक बहुत देर हो चुकी थी। शिक्षक श्री प्रेम सिंह दादी का निधन हो चुका था। 

3 दिन से तबीयत बिगड़ रही थी, छुट्टी मांग रहे थे 

बताया गया है कि श्री प्रेम सिंह डाबी की तबीयत 3 दिन पहले से गुजर रही थी। वह छुट्टी मांग रहे थी। उन्होंने एक लिखित आवेदन भी दिया था परंतु उनका अवकाश स्वीकृत नहीं किया गया था। घटना वाले दिन भी जब उन्होंने अपनी तबीयत बिगड़ने की जानकारी दी तब भी छुट्टी नहीं दी गई। समाचार लिखे जाने तक इस मामले में स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से ना तो कोई आधिकारिक बयान आया है और ना ही किसी कार्रवाई की जानकारी दी गई है। 

✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें एवं यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल पर कुछ स्पेशल भी होता है। यहां क्लिक करके व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन कर सकते हैं

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !