MPPSC NEWS- रिजल्ट के लिए उम्मीदवारों का आयोग के दरवाजे पर धरना प्रदर्शन

Madhya Pradesh Public Service Commission Indore
के मुख्य द्वार पर एमपीपीएससी 2020 के उम्मीदवारों द्वारा आज धरना प्रदर्शन किया गया। उनका कहना था कि मुख्य परीक्षा को 10 महीने बीत गए हैं परंतु अभी तक रिजल्ट जारी नहीं हुआ है। यह प्रदर्शन नेशनल एजुकेटेड यूथ यूनियन के बैनर तले किया गया। 

राज्य सेवा मुख्य परीक्षा 2020 का रिजल्ट जारी करवाने उम्मीदवारों का प्रदर्शन

राज्य सेवा मुख्य परीक्षा 2020 के रिजल्ट की मांग को लेकर अभ्यर्थी राज्य लोक सेवा आयोग के ऑफिस पहुंचे। वे बोले- राज्य सेवा मुख्य परीक्षा अप्रैल 2022 में हुई। परीक्षा को हुए 10 महीने हो गए, लेकिन रिजल्ट नहीं आया। समय पर रिजल्ट नहीं आने से अभ्यर्थियों को टेंशन हो रही है। वे भविष्य को लेकर कुछ तय तक नहीं कर पा रहे हैं।

अभ्यर्थियों ने आयोग के अधिकारियों को ज्ञापन सौंप कर मांग की है कि इस मुख्य परीक्षा का रिजल्ट संवैधानिक रूप से 100% पर एक सप्ताह के अंदर जारी करें, जो कोर्ट केस में न अटके। इस मामले में आयोग के अधिकारियों ने अभ्यर्थियों को आश्वासन दिया है।

MPPSC SSE(M) और पटवारी परीक्षा में से किसी एक तारीख को बदलें

अभ्यर्थियों ने कहा कि राज्य सेवा मुख्य परीक्षा 2021 कैलेंडर के अनुसार 16 से 21 मार्च 2023 में प्रस्तावित है। ऐसे में एमपीपीईबी द्वारा पटवारी की भी परीक्षा आयोजित की जा रही है। एमपीपीएससी के कई अभ्यर्थी पटवारी की भी परीक्षा देते हैं, इसलिए अभ्यर्थियों ने मांग की है कि दोनों संस्थाएं आपस में समन्वय करके दोनों परीक्षाओं में होने वाले टकराव को दूर करें, ताकि अभ्यर्थी अच्छे से परीक्षा की तैयारी कर सके।

इधर, अभ्यर्थियों के प्रदर्शन के चलते पुलिस बल भी मौके पर तैनात रहा। प्रदर्शन के पहले ही एमपीपीएससी ऑफिस के बाहर बैरिकेडिंग कर पुलिस तैनात नजर आई। प्रदर्शन में मुख्य रूप से नेशनल एजुकेटेड यूथ यूनियन के संयोजक राधे जाट, मनराज सिंह, गोविंद सिंह सहित कई अभ्यर्थी यहां मौजूद रहे। 

✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें एवं यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल पर कुछ स्पेशल भी होता है।