MP karmchari news- व्यावसायिक प्रशिक्षक नियमितीकरण नहीं वेतन के लिए हड़ताल करने वाले हैं

भोपाल
। सरकार ने बड़ी चतुराई से कर्मचारियों को कई वर्गों में बांट दिया है ताकि वह कभी भी एक साथ बड़ी संख्या ना बन पाए। मध्यप्रदेश में एक तरफ जहां कुछ अस्थाई शिक्षक नियमितीकरण की मांग कर रहे हैं वहीं दूसरी तरफ आउटसोर्स व्यवसायिक प्रशिक्षक नियमित वेतन के लिए हड़ताल पर जाने वाले हैं। उनकी कंपनियों ने 6-6 महीने से उन्हें वेतन नहीं दिया है। 

व्यवसायिक प्रशिक्षण संघ मध्य प्रदेश द्वारा आयुक्त लोक शिक्षण संचालनालय को बताया गया है कि, नवीन व्यावसायिक शिक्षा अंतर्गत कार्यरत व्यावसायिक प्रशिक्षकों (VT) के मानदेय का भुगतान, VTP आउटसोर्सिंग कंपनियों द्वारा पिक्षले 6-7 महीनों से नहीं किया जा रहा है, जिससे व्यावसायिक प्रशिक्षकों को बहुत ही संकट का सामना करना पड़ रहा है। 

जिसको लेकर इसके पहले भी आपको समय–समय पर पत्र, ईमेल के माध्यम से अवगत कराया गया है लेकिन आपके द्वारा किसी भी VTP/आउटसोर्सिंग कंपनियों पर आज तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है। जिससे इन VTP/आउटसोर्सिंग कंपनियों का मनोबल बढ़ा हुआ है और सैलरी मांगने पर इनके द्वारा नौकरी से निकालने की धमकियाँ दी जाती है। 

अतः श्री मान जी से निवेदन है की मध्यप्रदेश में कार्यरत समस्त  VTP /आउटसोर्सिंग कंपनियों के समस्त व्यावसायिक प्रशिक्षकों का समस्त पेंडिंग मानदेय का भुगतान, एक सप्ताह के अन्दर कराना सुनिश्चित करने की कृपा करें। एक सप्ताह में समस्त पेंडिंग मानदेय का भुगतान नहीं होने की स्थित में हम सभी व्यावसायिक प्रशिक्षक (VT) संचालनालय के सामने धरना प्रदर्शन के लिए बाध्य होंगे। 

वेबसाइट पर शिक्षक संघ मध्य प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष प्रकाश यादव द्वारा यह सूचना एवं मांग पत्र दिनांक 12 दिसंबर 2022 को दिया गया था। निर्धारित अवधि समाप्त हो चुकी है और अभी तक वेतन जारी नहीं हुआ है।