GWALIOR NEWS- ताज एक्सप्रेस सहित 3 ट्रेनें प्रभावित, स्टोपेज बदले

ग्वालियर। 
ग्वालियर से चलने व गुजरने वाली 3 ट्रेनों को कोहरे के कारण रेलवे बोर्ड ने  रद किया है और कुछ ट्रेनों के फेरे कम किए हैं। एक दिसंबर से ग्वालियर झांसी के बीच ताज एक्सप्रेस नहीं चलेगी। चंबल एक्सप्रेस ग्वालियर मुथरा के बीच नहीं दौड़ेगी। जबकि बरोनी मेल रद रहेगी। ग्वालियर से गुजरने वाली तीन ट्रेनों प्रभावित हुई हैं। इन चार ट्रेनों के फेरे कम होने से 100 से 150 किमी दायरे में सफर करने वाले यात्रियों को परेशानी हो सकती है। 

उत्तर भारत में घना कोहरा छाता है, जिससे उत्तर भारत की ओर से आने वाली ट्रेनें घंटो देर से चलती हैं। जिससे में ताज एक्सप्रेस सबसे ज्यादा प्रभावित होती है। कोहरा छाने पर यह ट्रेन ग्वालियर चार से पांच घंटे देर से ग्वालियर आती है। झांसी पहुंचते-पहुंचते भी लेट हो जाती है। झांसी भी ट्रेन समय पर रवाना नहीं होती है, जिससे दिल्ली जाने वाली ट्रेन भी लेट हो जाती है। इस कारण ट्रेन के फेरों में कम की गई है। झांसी जाने का समय बचाया गया है। ग्वालियर मथुरा के बीच कोहरा होने से ट्रेन प्रारंभिक स्टेशन से ही लेट हो जाती है।

ताज एक्सप्रेस के अधिकतर डिब्बे ग्वालियर में खाली हो जाती हैं। ग्वालियर से डबरा, दतिया, झांसी के बीच सफर करने वाले यात्रियों के लिए काफी लोकप्रिय ट्रेन थी। क्योंकि डिब्बे खाली होने से बैठने की जगह मिल जाती थी। यही स्थिति चंबल एक्सप्रेस की थी। ग्वालियर से मथुरा के बीच सफर करने वाले इस ट्रेन का इंतजार करते थे, चंबल के रद होने से दूसरे ट्रेनों से सफर करना होगा।

ये ट्रेनें प्रभावित

12177 हावड़ा मथुरा चंबल एक्सप्रेस दो दिसंबर से 24 फरवरी के बीच ग्वालियर-मथुरा के बीच रद रहेगी। यह ट्रेन ग्वालियर से चलाई जाएगी। 12178 मथुरा हावड़ा चंबल एक्सप्रेस पांच दिसंबर से 27 फरवरी के बीच मथुरा-ग्वालियर के बीच रद रहेगी। ग्वालियर से ट्रेन को चलाया जाएगा।
12279 वीरांगना लक्ष्मीबाई-नई दिल्ली एक दिसंबर से 28 फरवरी तक ग्वालियर झांसी के बीच नहीं चलेगी। ग्वालियर से चलाया जाएगा। 12280 नई दिल्ली-वीरांगना लक्ष्मीबाई झांसी ताज एक्सप्रेस को ग्वालियर में समाप्त कर दिया जाएगा। ग्वालियर से दिल्ली के लिए रवाना की जाएगी।
गाडी संख्या 11123 ग्वालियर-बरौनी एक्सप्रेस दिसंबर में प्रत्येक सोमवार व गुरूवार रद रहेगी। गाडी संख्या 11124 बरौनी-ग्वालियर प्रतिदिन एक्सप्रेस दिसंबर में प्रत्येक मंगलवार व शुक्रवार को रद रहेगी।