MP NEWS- शिक्षक पात्रता परीक्षा घोटाले में मंत्री वाले कॉलेज के कंप्यूटर जप्त

भोपाल
। प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड भोपाल द्वारा आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा के दौरान हुई गड़बड़ी के मामले में पुलिस ने परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के बेटे द्वारा संचालित कॉलेज के कंप्यूटर जप्त कर लिए हैं। इसके अलावा ग्वालियर के उस कॉलेज के कंप्यूटर भी जप्त किए गए जो जांच की जद में है। 

फ्लैश बैक- व्यापम घोटाला-3 क्या है, पढ़िए

मध्य प्रदेश प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा के दौरान सोशल मीडिया पर पेपर के स्क्रीनशॉट वायरल हो गए थे। इन्वेस्टिगेशन में पाया गया कि यह स्क्रीनशॉट​​​​​ सागर स्थित ज्ञानवीर इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड साइंसेस सेंटर से कैप्चर किया गया था। मामला और ज्यादा बढ़ा इसलिए हो गया क्योंकि इस कॉलेज का संचालन ज्योतिरादित्य सिंधिया के नजदीकी एवं शिवराज सिंह सरकार में परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के पुत्र आदित्य राजपूत द्वारा संचालित किया जाता है। इन्वेस्टिगेशन के दौरान पाया गया कि ग्वालियर के सर्वधर्म कॉलेज में भी गड़बड़ी हुई है। 

व्यापम घोटाला 2022- जांच की निष्पक्षता पर सवाल

व्यापम घोटाला 2022 की जांच की निष्पक्षता पर सवाल उठाए जा रहे हैं। कहा जा रहा है कि पुलिस बहुत धीमी गति से काम कर रही है। 6 महीने से अधिक हो गया लेकिन अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं की गई है। लोगों का कहना है कि पूरा मामला कांग्रेस से भारतीय जनता पार्टी में आए कद्दावर नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के आसपास घूम रहा है। एक कॉलेज उनके समर्थक मंत्री के बेटे द्वारा संचालित होता है और दूसरा कॉलेज उनके अपने ग्वालियर शहर से है। 

MP PEB TET-3 घोटाला- सारी जिम्मेदारी हैकर्स पर डालने की तैयारी

सूत्रों का कहना है कि इस घोटाले में सब को सुरक्षित निकालने की तैयारी की जा रही है। घोटाले की पूरी जिम्मेदारी अज्ञात हैकर्स पर डालने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। JEE मेंस 2021 के ऑनलाइन एग्जाम में गड़बड़ी मामले में CBI ने रूस के हैकर्स को पकड़ा है। सीबीआई की इस कार्रवाई से मध्य प्रदेश के व्यापम घोटाले 2022 की फाइल में खात्मा लगाने का आईडिया मिल गया है। माहौल बनाया जा रहा है कि व्यापम घोटाला 2022 भी हैकर्स द्वारा किया गया था। 

व्यापम के घोटालेबाजों द्वारा पत्रकारों को यूज किया जा रहा है

इस घटनाक्रम में सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि घोटालेबाजों द्वारा पत्रकारों को यूज किया जा रहा है। जिन पत्रकारों को कंप्यूटर सर्वर, नेटवर्किंग, सिस्टम की रिमोट ऑपरेटिंग, इंटरनेट बॉट और वेब कॉलिंग के बारे में कुछ भी नहीं पता, उन्हें बुलाकर ब्रेकिंग न्यूज़ के नाम पर कुछ इस तरह की जानकारियां दी जा रही है ताकि उनके द्वारा प्रकाशित/ प्रसारित समाचारों के माध्यम से उम्मीदवारों के बीच एक माहौल बन जाए, व्यापम घोटाला 2022 घोटाला किसी अज्ञात हैकर द्वारा किया गया है।