JABALPUR कलेक्टर ने रोजगार सहायक को बर्खास्त किया, संबल योजना की राशि खुर्द-बुर्द

जबलपुर।
मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले के गोसलपुर थाना क्षेत्र मे एक किशोर को कुछ लोगों ने बहला-फुसलाकर उसके खाते से दो लाख रुपये निकलवा कर खुर्द-बुर्द कर दिए। इस मामले में रानीताल ग्राम पंचायत के रोजगार सहायक पर भी आरोप लगे हैं। कलेक्टर डा. इलैयाराजा टी. की ओर से रोजगार सहायक मनोज राय की बर्खास्तगी के लिए नोटिस जारी कर दिया गया है।

जानकारी के अनुसार गोसलपुर थाना क्षेत्र के ग्राम रानीताल में रहने वाले चौदह वर्षीय ओम भुमिया के माता-पिता और इकलौती बहिन का स्वर्गवास हो चुका है। शासन की संबल-योजना के तहत यूनियन बैंक की पनागर शाखा में ओम भुमिया के खाते में दो लाख रुपये जमा कराए गए थे। ओम को इस बारे में जानकारी नहीं रही और उसको पंचायत का रोजगार सहायक मनोज राय, वीरेंद्र गड़ारी और गांव का ही एक अन्य व्यक्ति पनागर के किसी कियोस्क सेंटर पर ले गए, जहां उससे अंगूठा लगवाकर उसके खाते से दो लाख रुपये निकाल लिए।

इस जालसाजी को तीन-चार बार में अंजाम दिया गया। कुछ समय बाद जब गांव वालों को ओम से जालसाजी का पता चला तो उन्होंने गोसलपुर पुलिस में शिकायत की, लेकिन वहां से कोई कार्रवाई नहीं होने के बाद लोगों ने कलेक्टर से इसकी शिकायत की। कलेक्टर ने जिला पंचायत को मामले की जांच के लिए कहा। कलेक्टर ने जालसाजों से ओम के खाते में वापस दो लाख रुपये जमा करवाने के लिए भी कहा। मामले की पड़ताल चल रही है, जिन लोगों के नाम इस गड़बड़ी में सामने आए हैं उन सभी पर ओम के खाते में पैसा वापस जमा कराने के लिए दबाव भी बनाया जा रहा है। ।