मध्य प्रदेश मानसून- 4 जिलों में मूसलाधार, 27 जिलों में भारी बारिश होगी- MP WEATHER FORECAST

भारत मौसम विज्ञान विभाग द्वारा मध्य प्रदेश के 4 जिलों में मूसलाधार और 27 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। वैज्ञानिकों का कहना है कि उपरोक्त 31 जिलों में जहां भी बारिश होगी जनजीवन प्रभावित होगा। जलभराव के अलावा बाढ़ भी आ सकती है। नागरिकों से सावधान रहने की अपील की गई है। विशेषज्ञों का कहना है कि 24 सितंबर तक मौसम का इस प्रकार का खतरा बना रहेगा। 

मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान- 4 जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट

मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार मुरैना, छतरपुर, टीकमगढ़ एवं निवाड़ी जिला में मूसलाधार बारिश होने की संभावना है। वैज्ञानिकों का कहना है कि 204 मिलीमीटर तक बारिश हो सकती है यानी जिस इलाके में बारिश होगी वहां जलभराव की स्थिति बन सकती है। यदि कोई नदी नाला हुआ तो बाढ़ आ जाएगी। 

मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश के 27 जिलों के लिए येलो अलर्ट 

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार उपरोक्त 4 जिलों के अलावा नर्मदापुरम, हरदा, बैतूल, ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, दतिया, भिण्ड, श्योपुरकलॉ, विदिशा, रायसेन, बुरहानपुर, धार, सीधी, पन्ना, दमोह, सागर, डिंडोरी, रीवा, अनूपपुर, कटनी, जबलपुर, छिंदवाडा, सिवनी, मण्डला, बालाघाट जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार कुछ स्थानों पर 115 मिलीमीटर तक बारिश हो सकती है। जो जनजीवन को प्रभावित करेगी। जलभराव और बाढ़ की स्थिति बन सकती है। 

मध्य प्रदेश मौसम समाचार- कहां कितनी बरसात हुई

मौसम का पूर्वानुमान एवं किसान मौसम बुलेटिन के अनुसार पिछले 24 घन्टों के दौरान प्रदेश के रीवा, शहडोल, सागर एवं ग्वालियर संभागों के जिलों में अधिकांश स्थानों पर जबलपुर, नर्मदापुरम, भोपाल संभागों के जिलों में अनेक स्थानों पर, इंदौर एवं चंबल संभागों के जिलों में कुछ स्थानों पर तथा उज्जैन संभाग के जिलों में कही कही वर्षा दर्ज की गई। 

वर्षा के प्रमुख आंकडे (सेमी मे) :- जबेरा, बालाघाट 10, ओरछा, बडामलहरा 9, किरनापुर, सिहावल 8 वारासिवनी, नईगढी, चितरंगी, बहरी, सिवनीमालवा 7. मावई, पाटन, डबरा, लहार, रौन, मिहौना 6 सेमी।