GWALIOR NEWS- मजिस्ट्रेट की मौत के तीसरे दिन उनकी पत्नी से छेड़छाड़

ग्वालियर
। अब से ठीक 2 साल पहले 3 अगस्त 2020 को कोरोना संक्रमण काल के दौरान जबलपुर में एक मजिस्ट्रेट की मृत्यु हो गई थी। वह ग्वालियर के रहने वाले थे। उनकी पत्नी का मायका लखनऊ उत्तर प्रदेश में है। उन्होंने FIR दर्ज करवाई है कि उनके पति की मृत्यु के तीसरे दिन पति के बड़े भाई (जेठ) ने नशे की हालत में उनके साथ छेड़छाड़ की। तो फिर जेठ के ससुर ने हरकत की और पति की तेरहवीं के बाद उन्हें घर से निकाल दिया गया। 

पति की मृत्यु के साथ ही परिवार का व्यवहार बदल गया

लखनऊ उत्तर प्रदेश पुलिस की ओर से केस डायरी ग्वालियर के बहोड़ापुर पुलिस थाने में भेजी गई है। पुलिस को मिली शिकायत के अनुसार महिला की शादी 10 फरवरी 2012 को विनय नगर ग्वालियर में रहने वाली एक प्रतिष्ठित परिवार में हुई थी। लड़का मजिस्ट्रेट था। कुछ समय बाद जबलपुर ट्रांसफर हो गया। शादी के 8 साल निर्विवाद बीते। 3 अगस्त 2020 को जबलपुर में उनके पति की हार्टअटैक के कारण मृत्यु हो गई। वह अपने पति के शव को लेकर उनके घर विनय नगर पहुंची। उनके पास 1.18 लाखों रुपए थे। पीड़ित महिला का कहना है कि जेठ एवं जेठानी ने उनसे पूरे पैसे ले लिए। 

पहले पति के बड़े भाई ने और फिर भाभी के पिता ने...

शिकायत में बताया है कि पति की मौत के तीसरे दिन रात 9:30 बजे जब वह रसोई घर में थी, पति के बड़े भाई ने शराब के नशे में उनके साथ छेड़छाड़ की। 4 दिन बाद जेठानी के पिता उनके बेडरूम में घुस आए और आपत्तिजनक हरकत करने लगे। विरोध करने पर उनके साथ मारपीट की गई। पति की तेरहवीं के अगले ही दिन जेठ, जेठानी, ननद, जेठ के ससुर उसके कमरे में आए और उसकी 4 साल की बेटी को बालकनी से उल्टा टांगकर मारपीट की। उससे जबरन कोरे कागज पर साइन करा लिए। उसके जेवर छीनकर घर से भगा दिया।