VIT Bhopal University के हॉस्टल में स्टूडेंट की डेड बॉडी फांसी पर झूलती मिली, सुसाइड नोट भी मिला

भोपाल।
 वीआईटी (वैल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी) के छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। छात्र बिहार के सिवान जिले का रहने वाला था। पुलिस की प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि छात्र तनाव में रहता था, उसी के चलते यह कदम उठाया है। पुलिस को छात्र के कमरे से एक सुसाइड नोट भी मिला है। जिस पर उसने माता-पिता से माफी मांगी है। इसी कॉलेज में पिछले महीने छात्रों को हनुमान चालीसा नहीं पढ़ने देने को लेकर बवाल हुआ था।

पुलिस के अनुसार, चर्च के सामने महादेवा मिशन सिवान बिहार निवासी नैतिक आनंद (21) पिता नागेंद्र प्रसाद कोठरी भोपाल-इंदौर मार्ग पर कोठरी स्थित वीआईटी यूनिवर्सिटी में एमटेक एंट्री गे्रटेड फाइव ईयर का कोर्स कर रहा था। अभी वह सेकंड ईयर में होकर पढ़ाई कर रहा था। पुलिस की माने तो बुधवार को वह दोपबर 11:45 बजे परीक्षा देकर अपने रूम नंबर में वापस आया। 2:45 बजे उसके रूम पार्टनर ने आकर देखा तो अंदर से दरवाजा बंद मिला। रूम पार्टनर ने काफी दरवाजा खटखटाया। फिर भी कोई जवाब नहीं आया तो सुपरवाइजर, गार्ड को सूचना देकर बुलाया। सुपरवाइजर, गार्ड ने दरवाजा तोड़ा तो अंदर नैतिक रस्सी से फंदे पर लटका हुआ मिला।

सुसाइड नोट में क्या लिखा था उसका पता नहीं चल सका है। एसपी मयंक अवस्थी ने भी वीआईटी पहुंचकर मामले की जानकारी ली। वीआईटी में सैकड़ों बाहर के छात्र-छात्रा रहकर पढ़ाई कर रहे हैं। उनकी सुरक्षा को लेकर भी अब कई तरह के सवाल खड़े होने लगे हैं। नैतिक आनंद की मौत की सूचना मिलने पर उसके सिवान स्थित घर पर मातम छा गया है।

एसडीओपी आष्टा मोहन सारवान ने कहा कि बिहार का नैतिक वीआईटी कॉलेज में पढ़ाई कर रहा था। जिसका शव कमरे में रस्सी से लटका मिला है। मर्ग कायम कर जांच की जा रही है। घटना स्थल का भी निरीक्षण किया है। छात्र आत्महत्या मामले में सुसाइड नोट मिला है, जिसमें लिखा है कि सॉरी मम्मी-पापा।