मध्य प्रदेश मानसून- 9 जिलों में भारी बारिश होगी, बादल और घने होंगे- MP WEATHER FORECAST

2 दिन पहले बंगाल की खाड़ी से चले बादल मध्यप्रदेश के आसमान पर दिखाई देने लगे हैं। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने मध्य प्रदेश के 9 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। विशेषज्ञों का कहना है कि 27 एवं 28 अगस्त को मध्य प्रदेश के पूर्वी क्षेत्र में मूसलाधार बारिश होगी। 

मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान- 9 जिलों के लिए भारी वर्षा का येलो अलर्ट

मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली,पन्ना, दमोह, छतरपुर, टीकमगढ एवं निवाडी जिलों में भारी वर्षा होने एवं वज्रपात की संभावना है। उपरोक्त जिलों के अलावा शहडोल, नर्मदापुरम एवं भोपाल संभागों व बालाघाट, जबलपुर, कटनी तथा सागर जिलों में गरज चमक के साथ बिजली गिरने और हल्की बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने सभी क्षेत्रों के लिए येलो अलर्ट जारी किया है। नागरिकों से अपील की गई है कि मौसम को ध्यान में रखते हुए अपनी योजनाओं पर काम करें। 

मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान- 26 से 31 अगस्त 2022 के लिए

एमपी मौसम विभाग के अनुसार, शुक्रवार 26 अगस्त को बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम बनने जा रहा है, जिसके प्रभाव से अगस्त अंत तक बारिश का सिलासिला जारी रहेगा। 26 अगस्त से पूर्वी मध्यप्रदेश के हिस्सों में बारिश, 27 से 31 अगस्त के बीच भोपाल-नर्मदापुरम में तेज बारिश और इंदौर-उज्जैन संभाग में रिमझिम बारिश होगी। 

ग्वालियर में 29 अगस्त को गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। 31 अगस्त तक ग्वालियर, भिंड, मुरैना व दतिया में भारी वर्षा के आसार नहीं है, लेकिन स्थानीय प्रभाव से गरज-चमक गुना, शिवपुरी और अशोकनगर मे असर देखने को मिलेगा। गुरुवार को जबलपुर सहित संभाग के जिलों में कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं।

मध्य प्रदेश मौसम समाचार- कहां कितनी बरसात हुई 

पिछले 24 घन्टों के दौरान प्रदेश के शहडोल एवं रीवा संभागों के जिलों में अधिकांश स्थानो पर उज्जैन संभाग के जिलों में अनेक स्थानों पर जबलपुर, भोपाल एवं ग्वालियर संभागों के जिलों में कुछ स्थानों पर तथा इंदौर, सागर, नर्मदापुरम एवं चंबल संभागों के जिलों में कही कही वर्षा दर्ज की गई।