दिव्य IAS एकेडमी डायरेक्टर के विवादित वीडियो की जांच के आदेश - JABALPUR NEWS

जबलपुर
। कलेक्टर ने दिव्य IAS एकेडमी के डायरेक्टर बीएस लोधी के विवादित वीडियो की जांच के आदेश दिए हैं। आरोप है कि उन्होंने अपनी कक्षा में विद्यार्थियों को अनेकांतवाद का सिद्धांत समझाते हुए जैन समाज के मुनियों एवं भारतीय राजनीति के कुछ नेताओं का उदाहरण देते समय कुछ इस प्रकार के शब्दों का उपयोग किया है जिन पर आपत्ति दर्ज कराई गई। 

दिव्य आईएएस एकेडमी वाले डीएस लोधी ने नेताओं के बारे में क्या कहा

वीडियो में एकेडमी का डायरेक्टर डीएस लोधी वीडियो में बोल रहे है कि ममता बनर्जी, मायावती, अटल बिहारी, उमा भारती, रतन टाटा और हजारों उदहारण है। जो रोज जिस देश में जा रहे है, वहां रोज सूट बदल रहे है, ये लोग रोज अनंत आनंद ले रहे है। लेकिन ये किसी लोभ-माया में नहीं फंसते और आप लोभ-माया में फंस जाते हो, लटके रहो खूंटे से, पीसते रहो चक्की। ‘मैं सत्य बता रहा हूँ’ जिसको समझ आ जाए तो ठीक है... एकेडमी डायरेक्टर कहते है कि 'मैं सत्य बता रहा हूँ' जिसको समझ आ जाए तो ठीक है, जल्दी आ जाए तो और अच्छा है, देर से आया तो समय निकल जाएगा। अनंत दर्शन, अनंत ज्ञान सीमित आनंद में कन्वर्ट हो गया। लोभ-मोह-माया के कारण जो अनंत आनंद मिलने वाला था, वह सीमित आनंद हो गया। इसके बाद ही टीचर ने जैन समुदाय पर पहनावे को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की। 

लोकप्रियता के लिए लाइन क्रॉस कर रहे हैं कोचिंग संचालक 

पिछले कुछ समय से देखा जा रहा है कि लोकप्रियता के लिए कोचिंग संचालक अपनी मर्यादा लांघ रहे हैं। शासन व्यवस्था और राजनीति की समीक्षा करने लगते हैं। यूट्यूब पर खान सर की लोकप्रियता के बाद इस तरह की घटनाएं ज्यादा बढ़ गई हैं। पिछले दिनों कुछ कोचिंग संचालकों के भड़काने पर मध्य प्रदेश में हिंसक प्रदर्शन हुए थे।