GWALIOR NEWS- डॉ. आलोक नीखरा का मकान गिरा, मलबे में दबे

ग्वालियर
। बड़ी खबर आ रही है। सोमवार मंगलवार की दरमियानी रात लगभग 2:00 बजे एक तीन मंजिला मकान अचानक धराशाई हो गया। इस हादसे में मकान मालिक डॉक्टर आलोक नीखरा मलबे में दब गए। घटना के समय परिवार के सभी सदस्य घर से बाहर थे। इसलिए बड़ा हादसा होने से बच गया।

पड़ोसी बेसमेंट बना रहा था, जिसके कारण मकान गिर गया

शहर के दाल बाजार इलाके की गीता कॉलोनी में अशोक नीखरा (गुप्ता) का तीन मंजिला मकान बना हुआ था। इस मकान में उनके बेटे डॉक्टर आलोक नीखरा अपने परिवार के साथ रहते हैं। बताया जा रहा है कि डॉक्टर नीखरा के पास में एक नत्थीलाल बंसल द्वारा बेसमेंट बनाया जा रहा था। उसकी गहराई काफी ज्यादा थी। इसके कारण डॉ नीखरा के मकान की नींव कमजोर हो गई और उनका मकान गिर गया। हादसे के समय डॉक्टर अकेले थे। 

संतोष की बात यह है कि मलबे में दबे होने के बावजूद डॉक्टर आलोक नीखरा बाहर निकल आए और घायल अवस्था में उन्हें एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कर दिया गया है। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी ने मौखिक तौर पर बताया कि पड़ोसी नत्थी लाल बंसल और उनका परिवार घर पर नहीं है।

मध्यप्रदेश में पंजाब पुलिस के सब इंस्पेक्टर की डेड बॉडी मिली- MP NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ जिले में रेलवे ट्रैक पर एक व्यक्ति की डेड बॉडी मिली है। स्थानीय पुलिस का कहना है कि उसकी जेब से सब इंस्पेक्टर का फोटो आईडी मिला है। अनुमान लगाया जा रहा है कि यह व्यक्ति पंजाब पुलिस में सब इंस्पेक्टर के पद पर था। समाचार लिखे जाने तक मृत व्यक्ति की शिनाख्त नहीं हो पाई है। 

जबलपुर में भूकंप: नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी 

जबलपुर में रविवार-सोमवार की दरमियानी रात 1 बजकर 23 मिनट पर जमीन की गहराई में भूकंप जैसी गतिविधि हुई। भूकंप की तीव्रता 3.4 मैग्नीट्यूड थी। कम अवधि और तीव्रता होने के कारण स्थानीय लोगों को भूकंप का पता भी नहीं चला। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के ट्वीट से पता चला कि जबलपुर में भूकंप आया था।