EPFO NEWS- 2021-22 के लिए ब्याज दर केंद्र सरकार द्वारा मंजूर

नई दिल्ली।
कर्मचारी भविष्य निधि संगठन में जमा कर्मचारियों की भविष्य निधि पर केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तावित 8.1% ब्याज दर को मंजूरी दे दी गई है। उम्मीद की गई थी कि केंद्र सरकार द्वारा इसमें कोई सुधार किया जाएगा परंतु ऐसा नहीं हुआ।

बता दें कि मार्च में कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EFPO) ने 2021-22 के वित्तीय वर्ष के लिए कर्मचारियों के PF फंड पर ब्याज दर को पिछले 40 सालों के निचले स्तर 8.1% पर घटा दिया था, जो पिछले वर्ष में 8.5 प्रतिशत था। यह 1977-78 के बाद से कर्मचारियों द्वारा अपने रिटायरमेंट फंड में जमा की गई सबसे कम ब्याज दर है। उस वर्ष कर्मचारी भविष्य निधि पर ब्याज दर 8% थी। 

EPF ब्याज का कैलकुलेशन कैसे होता है

आपको बता दें कि ईपीएफओ सालाना आधार पर ईपीएफ योजना (epfo interest rate) के लिए ब्याज दर तय करता है। ब्याज दर बाजार की स्थितियों पर निर्भर करती है और वित्त मंत्रालय द्वारा इसकी समीक्षा की जाती है। वित्त वर्ष 2021-22 के लिए ब्याज दर 8.1% रखा गया है। 

जैसा कि हम जानते हैं ईपीएफओ अपने एनुअल एक्रुअल्स का 85 प्रतिशत सरकारी सिक्योरिटीज और बांड्स सहित डेबिट उपकरणों में और 15 प्रतिशत ईटीएफ के माध्यम से इक्विटी में निवेश करता है। डेबिट और इक्विटी दोनों से होने वाली आय का उपयोग ब्याज भुगतान की गणना के लिए किया जाता है।