BHIND- दूध कारोबारी दंपती बच्चों का गला घोंट फांसी पर झूल गए

भिंड।
मध्यप्रदेश के भिंड के गोहद में दूध कारोबारी दंपती ने दोनों बच्चों का गला घोंट फांसी लगा ली। गला घोंटने के दौरान बेटे की मौत गई। बेटी बेहोश हो गई। उसे मरा समझकर दंपती फंदे पर झूल गए। सुबह लोगों की नजर जब घर के अंदर पड़ी तो आत्महत्या का पता चला। गांव वालों ने दरवाजा तोड़कर दंपती को नीचे उतारा और पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू कर दी है। दंपती के घर के बाहर करीब 300 लोग इकट्ठा हो गए हैं।

गोहद थाना प्रभारी राजेश सत्नाकर ने बताया कि गांव कटवा गुर्जर में दूध कारोबारी धर्मेंद्र पुत्र मान सिंह गुर्जर(32), पत्नी अमरेश(30) ने बेटे प्रशांत(12) और बेटी मीनाक्षी(10) का गला घोंटकर मारने की कोशिश की। जिसमें मीनाक्षी बेहोश हो गई। सुबह कोई आहट नहीं होने पर ग्रामीणों ने दरवाजा तोड़ा। दंपती अंदर फंदे पर लटके थे। बेटा बेसुध पड़ा था। बेटी गंभीर हालत में सिसक रही थी। जिसे तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गोहद इलाज के लिए भेजा गया।

गोहद SDOP आर. के. एस. राठौर ने बताया, अभी तक घटना के कारण का पता नहीं चल पाया है। बच्ची की जान बच गई है, इलाज के बाद सच सामने आ पाएगा। ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर डॉ. आलोक शर्मा ने बताया कि बच्ची खतरे से बाहर है, उसका इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में किया जा रहा है।