JABALPUR NEWS- पीड़ितों ने आरोपी को घर से खींच कर मार डाला क्योंकि पुलिस ने कार्रवाई नहीं की थी

जबलपुर
। लोगों का पुलिस पर भरोसा टूटता है तो कुछ भी हो सकता है। कैंट थाना क्षेत्र में 23 साल के एक लड़के को घर से खींच कर मार डाला गया, क्योंकि 1 दिन पहले इस युवक ने एक घर में आग लगा दी थी। पीड़ितों ने पुलिस से शिकायत की थी परंतु पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। गुस्से में आकर पीड़ितों ने आरोपी को घर से खींचा और सबके सामने पीट-पीटकर मार डाला। 

केंट थाने के टीआई विजय तिवारी के मुताबिक शीला टॉकीज के पास रहने वाला रत्नेश उर्फ गोलू राजपूत (23) रविवार शाम को घर में आराम कर रहा था। उसका क्षेत्र के ही आशु, पप्पू, निखिल, आशीष व साहिल से रंजिश थी। पांचों गोलू के घर पहुंचे और बाहर से गाली देने लगे। इसके बाद पांचों ने घर में घुस कर रत्नेश को खींच कर बाहर निकाला। पांचों ने लाठी-डंडे से उसकी बेरहमी से पिटाई शुरू कर दी।

गिड़गिड़ाता रहा, कोई पिता ने नहीं आया

वह बचने के लिए गिड़गिड़ाता रहा, पर आरोपियों को रहम नहीं आई। पांचों की दबंगई के चलते आसपास के लोग भी बीच-बचाव करने की हिम्मत नहीं जुटा पाए। इसी बीच किसी ने केंट पुलिस को खबर कर दी। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर आशु व पप्पू को दबोच लिया। जबकि अन्य को देर रात गिरफ्तार कर लिया। गोलू के सिर में गंभीर चोट आई थी। उसे पुलिस मेडिकल कॉलेज लेकर पहुंची। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। केंट पुलिस ने पांचों आरोपियों के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज कर लिया है। मां राधाबाई का रो-रो कर बुरा हाल है।

हत्या का कारण
पुलिस गिरफ्त में आए आरोपियों ने बताया कि गोलू ने शनिवार और रविवार सुबह विवाद किया था। शनिवार रात उसने पेट्रोल डालकर आरोपियों के घर में आग लगाने की कोशिश की थी। इसकी शिकायत आरोपी द्वारा गोलू के खिलाफ केंट थाने में की गई थी। पर पुलिस ने कुछ नहीं किया। शाम को इसी रंजिश में आरोपियाें ने हत्या की वारदात को अंजाम दिया। जबलपुर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया JABALPUR NEWS पर क्लिक करें.