पुराने लोग फोटो में मुस्कुराते क्यों नहीं थे, चेहरा गंभीर क्यों रखते थे- GK in Hindi

वर्तमान में आप किसी भी व्यक्ति का फोटो देखिए, वह आम नागरिक हो या VVIP, गरीब हो या अमीर, अपने फोटो में हमेशा मुस्कुराता हुआ दिखाई देगा, लेकिन जब अपन पुराने फोटो देखते हैं। राजा-महाराजा या किसी भी देश के वरिष्ठ अधिकारी, सबके चेहरे पर गंभीरता दिखाई देती है। कोई मुस्कुराता हुआ नजर नहीं आता। आइए पता लगाते हैं ऐसा क्यों होता था:- 

पुराने जमाने में कैमरामैन भी नहीं कहता था Say Cheese

पुराने जमाने की फोटोग्राफ व्यक्तित्व का प्रदर्शन करते थे। शक्तिशाली राजा का फोटो उसकी शक्ति का प्रदर्शन करता था और वैज्ञानिकों, अधिकारियों एवं विद्वानों के फोटो उनकी योग्यता का प्रदर्शन करते थे। चेहरे पर गर्व की अनुभूति या फिर शक्ति अथवा ज्ञान का आत्मविश्वास दिखाई देता था। यह एक मजेदार जानकारी है कि उन दिनों कैमरामैन भी Say Cheese नहीं बोलता था बल्कि Say Prunes बोलता था ताकि उच्चारण के अंत में चेहरा सामान्य हो जाए। 

पुराने जमाने में लोग फोटो खींचते समय मुस्कुराते क्यों नहीं थे 

दरअसल, मुस्कुराते हुए फोटो खिंचवाना उस समय असभ्यता का परिचायक था। राजा महाराजा एवं बड़े अधिकारियों के परिवारों में खिलखिला कर हंसना बैड मैनर्स माना जाता था। इंग्लैंड के राज दरबार में कुछ सालों पहले तक दांत दिखा कर हंसना असभ्य माना जाता था। यही कारण था कि उस समय के लोगों के फोटो में मुस्कुराते तक नहीं थे। ताकि वह गंभीर और सभ्य दिखाई दें। Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article 
(इसी प्रकार की मजेदार जानकारियों के लिए जनरल नॉलेज पर क्लिक करें) यदि आपके पास भी हैं कोई मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। 
editorbhopalsamachar@gmail.com
(general knowledge in hindi, gk question answer in hindi, general knowledge questions in hindi, gktoday in hindi, general awareness in hindi)