BHOPAL NEWS- शहर के जल संकट पर सीएम ने कमिश्नर से प्रतिवेदन मांगा

भोपाल।
नगर निगम कमिश्नर वीएस चौधरी कोलसानी के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी के नेताओं में भारी आक्रोश देखा जा रहा है। कोलार डैम की पाइप लाइन के नाम पर आधे शहर की पेयजल सप्लाई प्रभावित कर दी गई है। कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं है। विधायक और सांसद के बाद अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमिश्नर से शहर में पेयजल वितरण का प्रतिवेदन मांगा है।

रविवार की शाम को सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने नगर निगम कमिश्नर को सोमवार सुबह तक का समय दिया था। इससे पहले की राजधानी में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन होता, सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सुबह सबसे पहले नगर निगम कमिश्नर को बुलाकर निर्देशित किया कि भोपाल शहर में सुचारू पेयजल वितरण के लिए आवश्यक  व्यवस्थाएँ तत्काल  सुनिश्चित करें। आमजन को पेयजल की दिक्कत नहीं होना चाहिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की गई कार्यवाही का प्रतिवेदन मुख्यमंत्री कार्यालय को देने के निर्देश दिए। 

उल्लेखनीय है कि राजधानी भोपाल में पाइप लाइन बदलने के लिए 60 घंटे का समय मांगा गया था लेकिन 7 दिन होने को आ गए, पेयजल सप्लाई सामान्य नहीं हुई है। शहर में हाहाकार की स्थिति बनती जा रही है। भारतीय जनता पार्टी के जमीनी कार्यकर्ताओं के अलावा विधायक और सांसद भी चिंता की स्थिति में आ गए हैं। हालात यह बन गए कि मुख्यमंत्री को दखल देना पड़ा। भोपाल की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया bhopal news पर क्लिक करें।