MP EDUCATION DEPT NEWS- 48 हजार अतिथि शिक्षकों की सेवा समाप्ति के आदेश

mp atithi shikshak news today

भोपाल। मध्य प्रदेश शासन के लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा सरकारी स्कूलों में पढ़ा रहे 48000 अतिथि शिक्षकों की सेवा समाप्ति के आदेश जारी कर दिए गए हैं। कमिश्नर ने जिला एवं विकास खंड शिक्षा अधिकारियों से कहा है कि मूल्यांकन का काम खत्म होने तक अतिथि शिक्षकों की सेवाएं ली जा सकती हैं। 

लोक शिक्षण संचालनालय के कमिश्नर अभय वर्मा द्वारा सभी जिला शिक्षा अधिकारी एवं विकास खंड शिक्षा अधिकारियों को संबोधित पत्र क्रमांक / IT / अतिथि शिक्षक / 2022 / 239 दिनांक 7 अप्रैल 2022 के अनुसार, विद्यालयों में शिक्षकों की रिक्ति / प्रशिक्षण / अवकाश के कारण शाला में दर्ज विद्यार्थियों का पठन-पठन प्रभावित न हो इसके लिए संचालनालय के संदर्भित निर्देशों के द्वारा शैक्षणिक सत्र 2020-21 में विद्यालय में अतिथि शिक्षकों को आमंत्रित करने के निर्देश दिये गये थे। 

शैक्षणिक सत्र 2021-22 में परीक्षा मूल्यांकन तथा परीक्षाफल तैयार करने संबंधी कार्य 30 अप्रेल 2022 के पूर्व सम्पादित किए जाए। शैक्षणिक सत्र 2021-22 में आमंत्रित किये गये अतिथि शिक्षकों की सेवाएं 30 अप्रेल 2022 तक ली जा सकेगी।

अतिथि शिक्षकों की मुख्यमंत्री से मांग

अतिथि शिक्षकों का कहना है कि मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह सरकार को वर्तमान हालात को देखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार की तर्ज़ पर कम से कम 12 माह का सेवाकाल करते हुए अतिथि शिक्षकों का भविष्य सुरक्षित करने की तरफ कदम बढ़ाया जाना चाहिए था। मुख्यमंत्री जी से निवेदन है कि इस आदेश को निरस्त करवाकर अतिथि शिक्षकों के परिवार के भरण-पोषण की समस्या को दूर करें। कर्मचारियों से संबंधित महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP karmchari news पर क्लिक करें.