KAMAL NATH घबराए हुए नजर आ रहे हैं, हाईकमान से चार मुलाकात, घर पर गुटनिरपेक्ष मीटिंग - MP NEWS

भोपाल।
सिर्फ मध्य प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे भारत में कांग्रेस के सबसे शक्तिशाली नेताओं में से एक कमलनाथ पिछले कुछ दिनों से घबराए हुए नजर आ रहे हैं। 15 दिन में सोनिया गांधी से उनकी चार मुलाकात हो चुकी हैं। पिछले 7 दिनों में हाईकमान से मिलने 2 बार दिल्ली जा चुके हैं। इस बीच भोपाल स्थित सरकारी आवास में अरुण और अजय को बुलाकर फोटो जारी करवाए। यह सब कुछ कमलनाथ का अंदाज नहीं है। 

सन 2018, जब कमलनाथ ने मध्य प्रदेश की सक्रिय राजनीति में कदम रखा था। तब भी उनकी गतिविधियों में रणनीति नजर आती थी। आधे प्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया के नाम का शोर मचा हुआ था, लेकिन कमलनाथ आश्वस्त नजर आते थे। पिछले दिनों अचानक उनके चेहरे पर चिंता की लकीरें दिखाई दे रहीं हैं। अरुण यादव और अजय सिंह राहुल कि सोनिया गांधी से मुलाकात और प्रशांत किशोर की रिपोर्ट को इसका कारण माना जा सकता है, लेकिन गांधी परिवार में कमलनाथ की पकड़ इतनी भी कमजोर नहीं है। 

कुछ दिनों पहले ही उन्होंने बयान दिया था कि उन्हें पद का लालच नहीं है। प्रदेश अध्यक्ष पद के लिए उन्होंने कोई आवेदन नहीं दिया था। इस बयान के कुछ ही समय बाद उन्होंने कांग्रेस पार्टी के कुछ नेताओं को अपने घर बुलाया और खुद को सीएम कैंडिडेट घोषित करवा दिया। प्रशांत किशोर को लेकर उन्होंने कहा कि, कांग्रेस पार्टी के लिए प्रशांत किशोर लाभदायक होंगे परंतु मध्यप्रदेश में उनकी कोई जरूरत नहीं है। हाल ही में उन्होंने बयान दिया कि कांग्रेस पार्टी में मध्य प्रदेश का संगठन, देश में सबसे मजबूत है। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP NEWS पर क्लिक करें.